Aapni Agri
योजनाएं

Urea Spraying by Drone: सिर्फ 100 रुपये में किसान अपने खेतों में करा सकेंगे यूरिया का छिड़काव, ऐसे उठाएं लाभ

Urea Spraying by Drone
Advertisement

Urea Spraying by Drone: इसी को ध्यान में रखते हुए राज्य सरकार ने खेतों में मात्र 100 रुपये में यूरिया का छिड़काव करने की योजना शुरू की है. इस योजना के तहत किसान 100 रुपये प्रति एकड़ की दर से अपने खेतों में ड्रोन से छिड़काव करा सकते हैं. ड्रोन से छिड़काव करने का सबसे बड़ा फायदा यह होगा कि इससे न सिर्फ किसानों की मेहनत और समय की बचत होगी, बल्कि पूरे खेत में समान मात्रा में यूरिया का छिड़काव करने में मदद मिलेगी, जिससे पैदावार बेहतर होगी.

Also Read: Investing Hints: अगर आप भी म्यूचुअल फंड में निवेश करने जा रहे हैं तो अब आपके लिए अच्छा मौका है।

Urea Spraying by Drone: ड्रोन से यूरिया का छिड़काव करने पर कितना लगेगा शुल्क?
Urea Spraying by Drone
Urea Spraying by Drone

: सरकार ने इस संबंध में कृषि अधिकारियों को निर्देश दिये हैं. कहा गया है कि ड्रोन के माध्यम से यूरिया छिड़काव की यह सुविधा राज्य के हर किसान के खेत तक पहुंचनी चाहिए. इससे किसानों को नैनो यूरिया का छिड़काव करने में आसानी होगी। कृषि विभाग के सरकारी प्रवक्ता के मुताबिक, ड्रोन से फसलों पर नैनो यूरिया का छिड़काव करने पर किसानों को प्रति एकड़ 100 रुपये का शुल्क देना होगा. उदाहरण के तौर पर अगर कोई किसान 5 एकड़ क्षेत्र में नैनो यूरिया का छिड़काव करना चाहता है तो उसे इसके लिए 500 रुपये का शुल्क देना होगा. किसानों को छिड़काव के लिए ड्रोन निःशुल्क उपलब्ध कराये जायेंगे।

Advertisement

 

READ MORE  Haryana Budget 2024-25: किसान आंदोलन के दौरान सीएम खट्टर ने किया कर्जमाफी व MSP का ऐलान

Also Read: Subsidy on Tractor Rotavator: आधी कीमत पर मिल रहा ट्रैक्टर रोटावेटर, ऐसे उठाएं लाभ

Urea Spraying by Drone: वर्तमान में किन फसलों में यूरिया का छिड़काव किया जा रहा है?

Urea Spraying by Drone: फिलहाल प्रदेश में सरसों और गेहूं की फसल में यूरिया का छिड़काव किया जा रहा है. यह सुविधा राज्य के किसानों के लिए शुरू हो गई है. किसान इस सुविधा का लाभ उठाकर अपने खेतों में सस्ती दर पर नैनो यूरिया का छिड़काव करा सकते हैं। इसके लिए सरकार ने जिलेवार लक्ष्य भी निर्धारित कर दिये हैं. आपको बता दें कि राज्य में बड़ी संख्या में किसान नैनो यूरिया का इस्तेमाल कर रहे हैं. इसे देखते हुए विभाग किसानों को नैनो यूरिया भी उपलब्ध करा रहा है।

Advertisement

Also Read: Baba Ramdev Viral Video: ‘‘ओबीसी वाले करवाये अपनी ऐसी-तैसी’’ वाले ब्यान पर योग गुरू बाबा रामदेव ने मारी पलटी, जानें अब क्या दी सफाई

Urea Spraying by Drone: ड्रोन से यूरिया का छिड़काव करने से क्या होगा फायदा?
Urea Spraying by Drone
Urea Spraying by Drone

Urea Spraying by Drone: ड्रोन के जरिए नैनो यूरिया का छिड़काव करने से किसानों को काफी फायदा होगा. ड्रोन के जरिए एक बार में 10 लीटर तक तरल पदार्थ उड़ाया जा सकता है. इसका छिड़काव खेतों में आसानी से किया जा सकता है. ड्रोन से छिड़काव करने का सबसे बड़ा फायदा यह होगा कि ड्रोन की मदद से एक जगह खड़े होकर लंबी दूरी तक यूरिया का छिड़काव करना संभव हो जाएगा। ड्रोन की मदद से किसान एक दिन में 20 से 25 एकड़ में कीटनाशकों का छिड़काव आसानी से कर सकते हैं। ड्रोन से स्प्रे छिड़कने से किसान का काम बहुत कम समय में पूरा हो जाएगा. इसके अलावा यूरिया व कीटनाशकों का छिड़काव करते समय किसान को जहरीले जानवरों के काटने का डर भी नहीं रहेगा।

READ MORE  Haryana Budget 2024-25: किसान आंदोलन के दौरान सीएम खट्टर ने किया कर्जमाफी व MSP का ऐलान

Also Read: Benefits of Figs: अंजीर है पोषण का खजाना, इसे रोजाना खाने से मिलेंगे कई स्वास्थ्य लाभ

Advertisement
Urea Spraying by Drone: ड्रोन से यूरिया छिड़काव हेतु रजिस्ट्रेशन कैसे करें

फिलहाल इस योजना का लाभ हरियाणा के किसानों को दिया जा रहा है. सरकारी प्रवक्ता के मुताबिक, ड्रोन के जरिए नैनो यूरिया के छिड़काव की सुविधा सभी के लिए उपलब्ध कराने का फैसला किया गया है. यह सुविधा राज्य के किसानों को बड़े पैमाने पर उपलब्ध कराने की योजना है. विभाग ने इसकी तैयारी कर ली है. ड्रोन के माध्यम से यूरिया छिड़काव की इस प्रणाली का लाभ उठाने के लिए किसान मेरी फसल मेरा ब्योरा पोर्टल पर जाकर पंजीकरण कर सकते हैं।

READ MORE  Haryana Budget 2024-25: किसान आंदोलन के दौरान सीएम खट्टर ने किया कर्जमाफी व MSP का ऐलान

Also Read: Pashu Kisan Credit Card: छोटे किसान इस तरीके से बनवाएं पशुधन क्रेडिट कार्ड, थोड़े से ब्याज पर पाएं लाखों रुपये का लोन

Urea Spraying by Drone: इस रजिस्ट्रेशन के दौरान आपको नैनो यूरिया के लिए भी आवेदन करना होगा. यदि आप स्वयं ऑनलाइन आवेदन करने में असमर्थ हैं तो आप सीएससी सेंटर के माध्यम से आवेदन कर सकते हैं। ऑनलाइन आवेदन के साथ ही किसानों को ड्रोन से छिड़काव का शुल्क भी जमा करना होगा। आपको बता दें कि अगस्त 2023-24 तक लगभग 8.87 लाख किसानों ने मेरी फसल मेरा ब्यौरा पोर्टल पर खरीफ फसल के लिए पंजीकरण कराया था। अब तक राज्य में 60.40 लाख एकड़ भूमि पोर्टल में पंजीकृत हो चुकी है।

Advertisement

Also Read: DA Hike Big News: ये कर्मचारी खुश, DA 4% बढ़ा, फरवरी में खाते में आएगा 6 महीने का एरियर

Advertisement

Disclaimer : इस खबर में जो भी जानकारी दी गई है उसकी पुष्टि Aapniagri.com द्वारा नहीं की गई है। यह सारी जानकारी हमें सोशल और इंटरनेट मीडिया के जरिए मिली है। खबर पढ़कर कोई भी कदम उठाने से पहले अपनी तरफ से लाभ-हानि का अच्छी तरह से आंकलन कर लें और किसी भी तरह के कानून का उल्लंघन न करें। Aapniagri.com पोस्ट में दिखाए गए विज्ञापनों के बारे में कोई जिम्मेदारी नहीं लेता है।

Related posts

Beekeeping: मधुमक्खी पालन के लिए सरकार दे रही 80% तक सब्सिडी, 15 दिसंबर से शुरू हो चुके आवेदन

Aapni Agri Desk

Farming: स्ट्रॉबेरी, ड्रैगन फ्रूट और पपीता की खेती पर सरकार दे रही जबरदस्त सब्सिडी, जल्दी यहां करें आवेदन

Aapni Agri Desk

PM Fasal Bima Yojana: पीएम फसल बीमा योजना सूची में अपना नाम ऐसे करें चेक, जानें यहाँ

Rampal Manda

Leave a Comment