Aapni Agri
योजनाएं

KCC: क‍िसान क्रेड‍िट कार्ड को लेकर सरकार ने पाई बड़ी सफलता, क‍िसानों को म‍िलेंगे इतने करोड़ रुपये

KCC:
Advertisement

KCC:  किसानों को सूदखोरों के चंगुल से मुक्त कराने की मुहिम में केंद्र सरकार को खास सफलता मिली है। सरकार ने न केवल आत्मनिर्भर भारत पैकेज के तहत किसान क्रेडिट कार्ड (केसीसी) जारी करने के लक्ष्य को समय पर पूरा किया, बल्कि इससे भी आगे बढ़कर अब 4.5 करोड़ से अधिक नए केसीसी स्वीकृत किए हैं।

इससे किसानों को नाममात्र ब्याज पर खेती के लिए सरकारी पैसा मिलेगा। सरकार केसीसी के तहत सभी पात्र किसानों तक पहुंचना चाहती है ताकि कोई भी किसान ऊंची ब्याज दरों पर सूदखोरों से पैसा लेकर अपना जीवन नरक न बना ले।

Also Read: Animal Care: जनवरी महीने में इन बातों का रखें विशेष ध्यान, नहीं होंगे आपके पशु बीमार

Advertisement
KCC
KCC
KCC:  लक्ष्य को समय से पहले किया हासिल

केंद्रीय कृषि मंत्रालय की एक रिपोर्ट में कहा गया है कि आत्मनिर्भर भारत पैकेज के तहत महामारी के दौरान 2.5 करोड़ किसानों को 2 लाख करोड़ रुपये के क्रेडिट लिमिट कार्ड जारी करने का लक्ष्य था। सरकार ने यह लक्ष्य 15 अक्टूबर 2021 को हासिल कर लिया था.

READ MORE  Haryana Budget 2024-25: किसान आंदोलन के दौरान सीएम खट्टर ने किया कर्जमाफी व MSP का ऐलान
KCC:किसान क्रेडिट कार्ड

इसके अलावा, 3 नवंबर, 2023 तक 451.98 लाख नए किसान क्रेडिट कार्ड (KCC) स्वीकृत किए गए हैं। इन कार्ड्स की क्रेडिट लिमिट 5,51,101 करोड़ रुपये है. इसका मतलब यह है कि नए केसीसी लाभार्थी इतनी बड़ी रकम कृषि क्षेत्र में निवेश कर सकेंगे.

KCC:  हर किसान तक केसीसी पहुंचाने का लक्ष्य

सरकार केसीसी का दायरा बढ़ाने की कोशिश कर रही है. इसीलिए केसीसी ‘घर-घर’ अभियान चला रही है. मंशा है कि प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के सभी लाभार्थियों को केसीसी का लाभ मिले। इसलिए, मौजूदा किसान क्रेडिट कार्ड खाताधारकों के डेटा को पीएम किसान डेटाबेस से सत्यापित किया गया है। इसमें ऐसे किसानों की पहचान की गई है जो पीएम किसान डेटाबेस से मेल खाते हैं और पीएम किसान योजना के लाभार्थी होने के बावजूद उन्हें केसीसी का लाभ नहीं मिल रहा है।

Advertisement
KCC:  कृषि ऋण के लिए कितना पैसा

दरअसल, मोदी सरकार चाहती है कि हर पात्र किसान को किसान क्रेडिट कार्ड का लाभ मिले ताकि उसे खेती के लिए साहूकारों से कर्ज न लेना पड़े. इसलिए कृषि क्षेत्र में कर्ज की सीमा हर साल बढ़ाई जा रही है. 2013-14 में कृषि ऋण का बजट केवल 7.3 करोड़ रुपये था जो 2022-23 में बढ़कर 21.55 लाख करोड़ रुपये हो गया है. अगर आप समय पर केसीसी का पैसा चुकाते हैं तो आपको इससे सस्ता लोन नहीं मिलेगा.

READ MORE  Haryana Budget 2024-25: किसान आंदोलन के दौरान सीएम खट्टर ने किया कर्जमाफी व MSP का ऐलान

Also Read: Weight Loss Yoga Poses: PCOS के कारण अगर बढ़ गया हो वजन, वजन काम करने में मददगार ये 3 योगासन

KCC
KCC
KCC:  केवल 4% ब्याज पर ऋण उपलब्ध

केसीसी की शुरुआत किसानों को रियायती ब्याज दरों पर अल्पावधि कृषि ऋण उपलब्ध कराने के उद्देश्य से की गई थी। इस योजना के तहत किसानों को खेती के लिए 7% की रियायती ब्याज दर पर ऋण दिया जाता है। इस योजना के तहत खेती के लिए 3 लाख रुपये तक का लोन मिलता है.

Advertisement

यदि आप समय पर ऋण चुका रहे हैं तो 3 प्रतिशत त्वरित पुनर्भुगतान प्रोत्साहन (पीआरआई) दिया जाता है। इस प्रकार, ब्याज की प्रभावी दर केवल 4 प्रतिशत प्रति वर्ष रहती है। पशुपालन और मत्स्य पालन के लिए केसीसी के तहत 2 लाख रुपये मिलते हैं।

Advertisement
READ MORE  Haryana Budget 2024-25: किसान आंदोलन के दौरान सीएम खट्टर ने किया कर्जमाफी व MSP का ऐलान

Disclaimer : इस खबर में जो भी जानकारी दी गई है उसकी पुष्टि Aapniagri.com द्वारा नहीं की गई है। यह सारी जानकारी हमें सोशल और इंटरनेट मीडिया के जरिए मिली है। खबर पढ़कर कोई भी कदम उठाने से पहले अपनी तरफ से लाभ-हानि का अच्छी तरह से आंकलन कर लें और किसी भी तरह के कानून का उल्लंघन न करें। Aapniagri.com पोस्ट में दिखाए गए विज्ञापनों के बारे में कोई जिम्मेदारी नहीं लेता है।

Related posts

LPG Gas Price: नए साल से पहले सरकार ने गरीब परिवारों को दिया बड़ा तोहफा, बस इतने में मिलेगा गैस सिलेंडर

Rampal Manda

10 per kg: इन फसलो की खेती करने पर किसानों को मिलेंगे प्रति किलो 10 रुपए की राशि

Rampal Manda

PM Kisan Yojana: PM Kisan Yojana योजना पर केंद्र सरकार का बड़ा बयान, रकम बढ़ोतरी को लेकर कही ये बातें

Rampal Manda

Leave a Comment