Aapni Agri
योजनाएं

Budget 2024: किसान हो सकते है मालामाल, इस बजट में हों सकती है बड़ी घोषणाएं

Budget 2024:
Advertisement

Budget 2024:  अंतरिम बजट में किसानों के लिए कई बड़े ऐलान होने की उम्मीद है. लेकिन सरकार का ध्यान सिर्फ किसानों को फायदा पहुंचाने तक ही सीमित नहीं रहेगा. बल्कि किसानों की उपज को लोगों तक पहुंचाने की पूरी प्रक्रिया को आसान बनाने के बारे में होगा, ताकि ग्राहकों को भी खाने-पीने की चीजों की महंगाई से निजात मिल सके. हालांकि, महंगाई कम करने के लिए किसान को मिलने वाली रकम में कटौती नहीं की जाएगी. इसके बजाय, भंडारण से लेकर परिवहन तक सब कुछ आसान बनाकर ऐसा किया जा सकता है।

Also Read: Haryana: अगर आप भी गैस सिलेंडर पर सब्सिडी चाहते हैं तो तुरंत करें ये काम

Budget 2024: किसानों के लिए बजट में खुलेगा 'फंड का पिटारा', क्या अब लोन  लेना हो जाएगा और आसान? | Budget 2024 nirmala sitharaman allot more funds  for farmers take loans become
Budget 2024:  अंतरिम बजट

अनुमान है कि अंतरिम बजट में 2024-25 के लिए कृषि ऋण लक्ष्य को बढ़ाकर 22 लाख करोड़ रुपये से 25 लाख करोड़ रुपये करने की घोषणा हो सकती है. 2023-24 के लिए सरकार का कृषि ऋण लक्ष्य 20 लाख करोड़ रुपये है। यह यह भी सुनिश्चित करेगा कि प्रत्येक किसान की संस्थागत ऋण तक पहुंच हो। सरकार कृषि ऋण के लिए आवंटन बढ़ाने के साथ-साथ सस्ता ऋण उपलब्ध कराने की योजना भी जारी रखेगी।

Advertisement
Budget 2024:  अल्पकालिक ऋण पर 2 प्रतिशत की ब्याज छूट

वर्तमान में, सभी वित्तीय संस्थानों से 3 लाख रुपये तक के अल्पकालिक ऋण पर 2 प्रतिशत की ब्याज छूट मिलती है। इसका मतलब है कि किसानों को 7 फीसदी की रियायती दर पर अल्पावधि ऋण मिलता है। इसके अलावा, समय पर ऋण चुकाने वाले किसानों को प्रति वर्ष 3 प्रतिशत की अतिरिक्त ब्याज छूट मिलती है। हालाँकि, दीर्घकालिक ऋण पर ब्याज दर बाज़ार दर के समान ही है। अब सरकार कृषि ऋण पर अधिक ध्यान दे रही है और छूटे हुए पात्र किसानों की पहचान करने और उन्हें ऋण नेटवर्क का हिस्सा बनाने के लिए कई अभियान चला रही है।

READ MORE  Haryana Budget 2024-25: किसान आंदोलन के दौरान सीएम खट्टर ने किया कर्जमाफी व MSP का ऐलान
Budget 2024:  कृषि और संबद्ध गतिविधिया

कृषि और संबद्ध गतिविधियों के लिए ऋण वितरण पिछले 10 वर्षों से लक्ष्य से ऊपर रहा है। 2023-24 में दिसंबर तक नौ महीनों के दौरान 20 लाख करोड़ रुपये के कृषि ऋण लक्ष्य का 82 प्रतिशत हासिल कर लिया गया है। इन नौ महीनों में निजी और सरकारी बैंकों ने 16.37 लाख करोड़ रुपये का कर्ज बांटा है. ऐसे में अनुमान है कि 2023-24 में भी कृषि ऋण लक्ष्य से ऊपर रह सकता है.

Also Read: what is sugar recovery: कम चीनी र‍िकवरी ने बढ़ाई हर‍ियाणा सरकार की टेंशन, आख‍िर क्यों है सरकार चिंचित

Advertisement
union budget 2021 news in hindi highlights for agricultural budget nirmala  sitharaman pm swamitva yojana pm kisan samman nidhi rkt | Union Budget  2021: जानिए आंदोलन कर रहे किसानों को बजट में
Budget 2024:  कृषि ऋण

कृषि ऋण पर 2022-23 के आंकड़े भी चालू कारोबारी साल जैसी ही तस्वीर पेश करते हैं। उनके मुताबिक, 2022-23 में कुल 21.55 लाख करोड़ रुपये बांटे गए. यह उस वर्ष के 18.5 लाख करोड़ रुपये के कृषि ऋण लक्ष्य से काफी ऊपर था। अब तक 73.4 करोड़ किसानों को किसान क्रेडिट कार्ड नेटवर्क के माध्यम से ऋण प्राप्त हुआ है। 31 मार्च तक उन पर करीब 8.85 लाख करोड़ रुपये का बकाया था।

READ MORE  Haryana Budget 2024-25: किसान आंदोलन के दौरान सीएम खट्टर ने किया कर्जमाफी व MSP का ऐलान
Budget 2024:अर्थव्यवस्था में कृषि क्षेत्र का योगदान

लेकिन केवल ऋण उपलब्ध कराने से अर्थव्यवस्था में कृषि क्षेत्र का योगदान बढ़ाने और किसानों की आय बढ़ाने में मदद नहीं मिल सकती। इसके लिए कृषि क्षेत्र को अन्य क्षेत्रों की तरह आधुनिक बनाना होगा

Advertisement
Advertisement

Disclaimer : इस खबर में जो भी जानकारी दी गई है उसकी पुष्टि Aapniagri.com द्वारा नहीं की गई है। यह सारी जानकारी हमें सोशल और इंटरनेट मीडिया के जरिए मिली है। खबर पढ़कर कोई भी कदम उठाने से पहले अपनी तरफ से लाभ-हानि का अच्छी तरह से आंकलन कर लें और किसी भी तरह के कानून का उल्लंघन न करें। Aapniagri.com पोस्ट में दिखाए गए विज्ञापनों के बारे में कोई जिम्मेदारी नहीं लेता है।

Related posts

Pradhan Mantri Awas Yojana: सरकार द्वारा दिये गए 57 लाख मकानों में आपका नाम यहां से करें चैक

Aapni Agri Desk

LPG Gas KYC: केवाईसी के बगैर नहीं मिलेगी गैस सिलेंडर सब्सिडी, यहां से करें केवाईसी

Aapni Agri Desk

Aadhar Card: अपडेट करने की बढ़ी तारीख, जल्दी अपडेट के लिए यहां करें क्लिक

Aapni Agri Desk

Leave a Comment