Aapni Agri
ग्रामीण उद्योगयोजनाएं

Beekeeping: मधुमक्खी पालन के लिए सरकार दे रही 80% तक सब्सिडी, 15 दिसंबर से शुरू हो चुके आवेदन

Beekeeping
Advertisement

Beekeeping: भारत के ग्रामीण क्षेत्रों में मधुमक्खी पालन अभी भी एक लोकप्रिय व्यवसाय बना हुआ है। बड़ी संख्या में किसान इस व्यवसाय से जुड़कर अपना जीवन यापन कर रहे हैं। सरकार भी किसानों को मधुमक्खी पालन के लिए लगातार प्रोत्साहित कर रही है. इसी कड़ी में बिहार सरकार मधुमक्खी पालन करने के इच्छुक किसानों को 90 फीसदी तक की सब्सिडी दे रही है.

Also Read: Family ID: अब घर बैठे परिवार पहचान पत्र से खुद हटा सकेंगे सदस्यों के नाम, जानें सरकार का नया नियम

Beekeeping
Beekeeping
Beekeeping: आवेदन प्रक्रिया 15 दिसंबर से शुरू हो रही है

राज्य सरकार के ट्वीट के मुताबिक, मधुमक्खी बक्से, शहद निकालने के उपकरण और शहद के लिए कॉलोनी सहित प्रसंस्करण के लिए सामान्य श्रेणी के किसानों को 75% तक और एससी-एसटी श्रेणी के किसानों को 90% तक सब्सिडी दी जाएगी. मधुमक्खी पालन पर सब्सिडी पाने के लिए इच्छुक किसान बागवानी विभाग की आधिकारिक वेबसाइट http://horticulture.bihar.gov.in/ पर जाकर सब्सिडी का लाभ उठा सकते हैं. इसके लिए आप 15 दिसंबर से आवेदन कर सकेंगे.

Advertisement
Beekeeping
Beekeeping

Advertisement

Also Read: Gram Suraksha Scheme 2023: 50 रूपये की रोजाना बचत से मिलेंगे एकमुश्त 35 लाख रूपये, यहां करें अप्लाई

READ MORE  PM kisan news: पीएम किसान की किस्त में हो सकती है धोखाधड़ी, तुरंत करें e-KYC
Beekeeping: झारखंड सरकार भी 80 प्रतिशत देती है

Beekeeping: बिहार के अलावा अन्य राज्यों में भी मधुमक्खी पालन पर सब्सिडी दी जाती है. इसको लेकर झारखंड में मीठी क्रांति योजना भी शुरू की गयी. इस योजना के तहत मधुमक्खी पालन इकाई स्थापित करने पर 80% तक अनुदान दिया जाता है। प्रत्येक किसान को कुल इकाई लागत का 80 प्रतिशत (1 लाख रुपये) यानी 80 हजार रुपये तक दिया जाता है। वहीं केंद्र सरकार भी अपने स्तर पर मधुमक्खी पालन पर सब्सिडी देती है.

Beekeeping
Beekeeper working in the field of sunflowers
नाबार्ड मधुमक्खी पालन करने वाले किसानों को सब्सिडी भी देता है.

Beekeeping: राष्ट्रीय मधुमक्खी बोर्ड (एनबीबी) ने मधुमक्खी पालन के दौरान किसानों को हर संभव मदद प्रदान करने के लिए नाबार्ड के साथ समझौता किया है। दोनों ने मिलकर भारत में मधुमक्खी पालन व्यवसाय के लिए एक वित्तपोषण योजना भी शुरू की है। इससे इस क्षेत्र में रुचि रखने वाले किसानों को काफी फायदा होता है.

Advertisement

Also Read: Advisory for Farmers: गेहूं की फसल हो चुकी है 21 दिन से ज्यादा समय की तो आपके लिए ये खबर है बड़े काम की

Advertisement
READ MORE  PM-Kisan: इन किसानों का होगा पाई-पाई का हिसाब, हरियाणा ने दी चौंकाने वाली रिपोर्ट

Disclaimer : इस खबर में जो भी जानकारी दी गई है उसकी पुष्टि Aapniagri.com द्वारा नहीं की गई है। यह सारी जानकारी हमें सोशल और इंटरनेट मीडिया के जरिए मिली है। खबर पढ़कर कोई भी कदम उठाने से पहले अपनी तरफ से लाभ-हानि का अच्छी तरह से आंकलन कर लें और किसी भी तरह के कानून का उल्लंघन न करें। Aapniagri.com पोस्ट में दिखाए गए विज्ञापनों के बारे में कोई जिम्मेदारी नहीं लेता है।

Related posts

PM Kisan Yojana: PM Kisan Yojana योजना पर केंद्र सरकार का बड़ा बयान, रकम बढ़ोतरी को लेकर कही ये बातें

Rampal Manda

Mushroom Farming: पढ़ें मशरूम की खेती की शुरुआत से लेकर बाजार तक पहुंचाने तक की पूरी जानकारी

Aapni Agri Desk

Loan Waiver Scheme: 33 हजार किसानों का कर्ज माफ, नई सूची जारी, देखें अपना नाम

Aapni Agri Desk

Leave a Comment