Aapni Agri
पशुपालन

Agriculture News: दुधारू पशुओं को खिलाएं यह चीज, बढ़ जाएगी दूध की मात्रा

Agriculture News:
Advertisement

Agriculture News: सफल पशुपालन और सफल डेयरी फार्मिंग के लिए इन दो चीजों का होना बहुत जरूरी है. एक तो पशुओं का बेहतर स्वास्थ्य और दूसरा अच्छी मात्रा में दूध का उत्पादन. इस लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए पशुओं के रख-रखाव, साफ-सफाई, खान-पान, स्वास्थ्य और सैर-सपाटे पर बहुत ध्यान देने की जरूरत होती है.

इसके लिए कई लोग जानवरों को इंजेक्शन और दवाइयां भी देते हैं, जो जानवरों के स्वास्थ्य के लिए हानिकारक होते हैं. ऐसे में पशुचिकित्सक भी स्थानीय और घरेलू नुस्खे अपनाने की सलाह देते हैं, जो जानवरों के लिए पूरी तरह से सुरक्षित हैं और पशुपालकों को उन पर कोई अतिरिक्त पैसा खर्च करने की जरूरत नहीं है. ऐसे में आइए जानते हैं दुधारू पशुओं को क्या खिलाने से बढ़ जाएगी दूध.

Also Read: Scheme: हरियाणा में अगले महीने से मिलेगा 1 किलो कम गेहूं, जानिए क्यों?

Advertisement
अपने दुधारू पशुओं को खिलाएं मिनरल्स से भरपूर ये आहार, बाल्टी भरकर देगी दूध,  होगा मोटा मुनाफा
Agriculture News: दुधारू पशुओं को खिलाएं ये खाना

दूध देने वाले पशुओं के आहार में दालों और बिना दालों का मिश्रण शामिल होना चाहिए. पांच लीटर तक दूध देने वाले पशुओं को केवल अच्छी गुणवत्ता वाले हरे चारे खिलाकर अच्छा दूध प्राप्त किया जा सकता है. पांच लीटर से अधिक दूध देने वाले पशुओं के लिए 2.0 या 2.50 लीटर दूध पर 1 किग्रा. अधिक अनाज देना चाहिए. अगर अनाज में एक भाग खली, एक भाग अनाज और एक भाग चोकर हो तो वह संतुलित और सस्ता रहता है.

READ MORE  drive away Nilgai: अंडे से बनाएं ये खास दवा और फसलों पर करें छिड़काव, आपके खेत में नहीं आयेगी नीलगाय
Agriculture News: खनिज लवण और 1 प्रतिशत नमक का होना जरूरी

अनाज में 2 प्रतिशत खनिज लवण और 1 प्रतिशत नमक का होना बहुत जरूरी है. बरसीम तथा अन्य फलीदार चारे को भूसे के साथ मिला देना चाहिए. इससे पशुओं में अव्यवस्था की समस्या नहीं होती. पशुओं को दाना और चारा मिलाकर खिलाना चाहिए या यूं कहें कि इसकी प्यूरी बनाकर भी खिला सकते हैं. प्यूरी बनाने से पहले इस बात का ध्यान रखें कि चारे को टुकड़ों में काट लें, नहीं तो पशु अपनी पसंद का हिस्सा चुनकर खा लेता है और मोटे या अधिक रेशेदार टुकड़े छोड़ देते हैं.

पशुधन चारा उत्पादन |Livestock Feed Production| pashu chara
Agriculture News: क्या है सूखी गाय-भैंसों का आहार

जो गाय या भैंस दूध नहीं दे रही है उन्हें कम आहार की आवश्यकता होती है. इस अवस्था में 6-8 घंटे चरने पर इनकी अधिकतम आवश्यकता की पूर्ति हो जाती है. अगर चारागाह अच्छा नहीं है तो सूखे चारे के साथ 1-1.50 कि.ग्रा. दाना मिलाकर रोज पशुओं को देना चाहिए. इस प्रकार के पशु को यूरिया उपचारित भूसा खिलाने से दानों की बचत की जा सकती है.

Advertisement
Agriculture News: पशुओं को इस तरह खिलायें चारा

पशुओं को केवल हरा चारा खिलाने से दूध उत्पादन नहीं बढ़ेगा, इसलिए हरे चारे या सूखे चारे के साथ-साथ खनिज और कैल्शियम की भी आपूर्ति करें. इसके लिए पशु विशेषज्ञों से सलाह लेकर पशुओं को चारे के साथ प्रो पाउडर, मिल्क बूस्टर, मिल्कगेन आदि खिला सकते हैं.

READ MORE  Animal Care: गर्मियों में पशुओं की ऐसे करें देखभाल, यहाँ जानें जरूरी टिप्स

Also Read: what is sugar recovery: कम चीनी र‍िकवरी ने बढ़ाई हर‍ियाणा सरकार की टेंशन, आख‍िर क्यों है सरकार चिंचित

हरे चारे की टेंशन छोड़िए, घर पर बनाएं साइलेज, सेहतमंद गाय भैंस देंगी ज्यादा  दूध
Agriculture News: पशु आहार कितनी मात्रा में तैयार करें

संतुलित आहार से ही पशुओं के स्वास्थ्य और दूध उत्पादन में सुधार हो सकता है. इस लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए पशु को प्रतिदिन 20 किलो आहार देना आवश्यक है. पशुओं को हरा चारा, 4 से 5 किलो सूखा चारा और 2 से 3 किलो अनाज व दालें मिलाकर खिलाएं.

Advertisement
Advertisement

Disclaimer : इस खबर में जो भी जानकारी दी गई है उसकी पुष्टि Aapniagri.com द्वारा नहीं की गई है। यह सारी जानकारी हमें सोशल और इंटरनेट मीडिया के जरिए मिली है। खबर पढ़कर कोई भी कदम उठाने से पहले अपनी तरफ से लाभ-हानि का अच्छी तरह से आंकलन कर लें और किसी भी तरह के कानून का उल्लंघन न करें। Aapniagri.com पोस्ट में दिखाए गए विज्ञापनों के बारे में कोई जिम्मेदारी नहीं लेता है।

Related posts

Animal Husbandry: अगर पशुओं का दूध बढ़ाना है तो गर्मी में करें ये काम, दूध होगा बम्पर

Rampal Manda

Cattle do not conceive: जानें किस कारण गर्भधारण नहीं करते पशु, तुरंत अपनाएं ये 7 उपाय

Rampal Manda

43 Indigenous Breeds of Cow: जानें भारत में पाई जाने वाली गायों की सभी नस्लों के बारे में

Aapni Agri Desk

Leave a Comment