Aapni Agri
कृषि समाचार

UP Budget 2024: यूपी के बजट में किसानों के लिए 3 नई घोषणाएं, जानें विस्तार से

UP Budget 2024
Advertisement

UP Budget 2024: उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने आज 5 फरवरी को वित्तीय वर्ष 2024-25 का लेखा-जोखा पेश किया. यूपी बजट का आकार 7 लाख 36 हजार 437 करोड़ 71 लाख रुपये (7,36,437.71 करोड़ रुपये) है. वित्त मंत्री सुरेश खन्ना ने आज के बजट में किसानों के हितों का विशेष ध्यान रखते हुए प्रदेश में कृषि के लिए तीन नई योजनाओं की घोषणा की.

UP Budget 2024: उन्होंने बताया कि कृषि को बढ़ावा देने के लिए तीन नई योजनाएं शुरू की जा रही हैं। पहली राज्य कृषि विकास योजना, दूसरी विश्व बैंक सहायतित एग्रीस योजना और तीसरी योजना विकास खंडों और ग्राम पंचायतों में स्वचालित मौसम स्टेशन और स्वचालित वर्षा मापक यंत्र की स्थापना से संबंधित है।

Also Read: Cotton Price: इस मंडी में नरमा बिका 10,000 रुपये क्विंटल, किसानों की बढ़ी उम्मीद

Advertisement
UP Budget 2024
UP Budget 2024

UP Budget 2024: बजट में राज्य कृषि विकास योजना और विश्व बैंक सहायतित कृषि योजना के लिए 200-200 करोड़ रुपये का प्रावधान किया गया है, जबकि कृषि की तीसरी योजना मद में 60 करोड़ रुपये की राशि खर्च की जायेगी.

अपने बजट भाषण में वित्त मंत्री ने कहा कि 2017 के बाद योगी सरकार किसानों के विकास में लगी हुई है. आज के बजट में भी किसानों का खास ध्यान रखा गया है.

READ MORE  Haryana Budget 2024-25: किसान आंदोलन के दौरान सीएम खट्टर ने किया कर्जमाफी व MSP का ऐलान
UP Budget 2024: किसानों के लिए योगी सरकार का लक्ष्य

UP Budget 2024: राज्य में कुल प्रतिवेदित क्षेत्रफल 241.70 लाख हेक्टेयर है, जिसमें से 160.95 लाख हेक्टेयर में खेती की जा रही है। योगी सरकार ने राज्य में कृषि क्षेत्र की 5.1 फीसदी विकास दर हासिल करने का लक्ष्य रखा है.

Advertisement

Also Read: Delhi ED raid: दिल्ली में 12 जगहों पर ED की छापेमारी जारी, जानें क्या है दिल्ली जल बोर्ड घोटाला?

किसानों के निजी नलकूपों को रियायती दरों पर विद्युत आपूर्ति हेतु 2400 करोड़ रुपये का प्रावधान प्रस्तावित है, जो चालू वित्तीय वर्ष से 25% अधिक है।

पीएम कुसुम योजना के क्रियान्वयन के लिए 449 करोड़ 45 लाख रुपये का प्रावधान प्रस्तावित है, जो चालू वित्तीय वर्ष की तुलना में दोगुने से भी अधिक है.

Advertisement
UP Budget 2024
UP Budget 2024
UP Budget 2024: सरकार की उपलब्धियां

डार्क जोन में नए निजी ट्यूबवेल कनेक्शन देने पर लगी रोक हटा दी गई है, जिसका सीधा लाभ लगभग 1 लाख किसानों को हुआ है।
बुन्देलखण्ड क्षेत्र में एकल रबी फसल की सिंचाई हेतु मौसमी टैरिफ का लाभ एवं अस्थाई विद्युत कनेक्शन की सुविधा प्रदान की गई।

READ MORE  Haryana Budget 2024-25: किसान आंदोलन के दौरान सीएम खट्टर ने किया कर्जमाफी व MSP का ऐलान

Also Read: Wheat Crop: बारिश के बाद धूप से गेहूं को कितना और कैसे होगा फायदा, जानें यहाँ

वर्ष 2023-2024 में अक्टूबर 2023 तक लगभग 37 लाख किसान क्रेडिट कार्ड वितरित किये गये।
प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के तहत 2022-2023 के लिए लगभग 10 लाख बीमित किसानों को 831 करोड़ रुपये का मुआवजा अक्टूबर 2023 तक भुगतान किया जाएगा।

Advertisement
UP Budget 2024
UP Budget 2024

UP Budget 2024: वर्ष 2023-2024 में दिसम्बर 2023 तक 8,787 करोड़ रुपये के अल्पकालीन ऋण वितरित किये गये, जिससे 14.35 लाख किसान लाभान्वित हुए।
प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना (पीएम किसान) के तहत दिसंबर 2023 तक 2.62 करोड़ किसानों के खातों में लगभग 63,000 करोड़ रुपये डीबीटी से ट्रांसफर किए गए.

Also Read: CAIT Response: चावल को लेकर जारी आदेश से छोटे व्यापारियों की मुश्किलें बढ़ जाएंगी, इस रिपोर्ट में देखें पूरी जानकारी
प्रधानमंत्री किसान मान-धन योजना के तहत राज्य के छोटे एवं सीमांत किसानों (पुरुष एवं महिला) को 60 वर्ष की आयु प्राप्त करने पर 3000 रुपये की सुनिश्चित मासिक पेंशन प्रदान की जा रही है।
वर्ष 2017 से 29 जनवरी 2024 तक लगभग 48 लाख गन्ना किसानों को 2 लाख 33 हजार 793 करोड़ रुपये से अधिक का भुगतान किया गया। गन्ना मूल्य भुगतान पिछले 22 वर्षों के संयुक्त गन्ना मूल्य भुगतान 2 लाख 1 हजार 519 करोड़ रुपये से 20,274 करोड़ रुपये अधिक है।

READ MORE  Haryana Budget 2024-25: किसान आंदोलन के दौरान सीएम खट्टर ने किया कर्जमाफी व MSP का ऐलान

पेराई सत्र 2023-2024 के लिए गन्ने की अगेती प्रजाति का मूल्य 350 रुपये से बढ़ाकर 370 रुपये, सामान्य प्रजाति का मूल्य 340 रुपये से बढ़ाकर 360 रुपये और अनुपयुक्त प्रजाति का मूल्य 335 रुपये से बढ़ाकर 355 रुपये कर दिया गया है. प्रति क्विंटल.

Advertisement
UP Budget 2024
UP Budget 2024
UP Budget 2024: कृषि शिक्षा एवं अनुसंधान

नरेंद्र देव कृषि एवं प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय, अयोध्या के अंतर्गत कृषि महाविद्यालय, गोंडा का शैक्षणिक सत्र शैक्षिक सत्र 2023-24 से प्रारंभ होगा।
महात्मा बुद्ध कृषि एवं प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय, कुशीनगर की स्थापना के लिए 100 करोड़ रुपये की व्यवस्था प्रस्तावित है.
कृषि एवं प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालयों एवं महाविद्यालयों में विभिन्न नये पाठ्यक्रमों हेतु 100 करोड़ रुपये का प्रावधान प्रस्तावित है।
नंद बाबा दुग्ध मिशन योजना के लिए 74 करोड़ 21 लाख रुपये का प्रावधान प्रस्तावित है, जो चालू वर्ष से 21 प्रतिशत अधिक है।

Also Read: RajNiti: राज्यसभा के लिए कवि कुमार विश्वास का नाम! बीजेपी की ओर से तैयार की गई सूची में हैं दावेदार

Advertisement
Advertisement

Disclaimer : इस खबर में जो भी जानकारी दी गई है उसकी पुष्टि Aapniagri.com द्वारा नहीं की गई है। यह सारी जानकारी हमें सोशल और इंटरनेट मीडिया के जरिए मिली है। खबर पढ़कर कोई भी कदम उठाने से पहले अपनी तरफ से लाभ-हानि का अच्छी तरह से आंकलन कर लें और किसी भी तरह के कानून का उल्लंघन न करें। Aapniagri.com पोस्ट में दिखाए गए विज्ञापनों के बारे में कोई जिम्मेदारी नहीं लेता है।

Related posts

Rabi Crops: बेमौसम बारिश से गेहूं की फसल को हो रहा फायदा तो आलू की फसल को नुकसान, जानें बचाव का तरीका

Rampal Manda

Haryana Weather News: हरियाणा में बदला मौसम, इन इलाकों में होगी बारिश

Aapni Agri Desk

Tur Dal Procurement Portal: किसानों को सरकार ने दिया बड़ा तोहफा, अब मिलेगा उनकी उपज का सही दाम

Rampal Manda

Leave a Comment