Aapni Agri
पशुपालन

बरसात के मौसम में इन तरीकों से करें बकरियों की देखभाल, बीमारियां रहेंगी दूर

बरसात के मौसम में इन तरीकों से करें बकरियों की देखभाल, बीमारियां रहेंगी दूर
Advertisement

Aapni Agri, Animal Husbandry

गांव में गाय-भैंस की तरह बकरी पालने का भी चलन आम आदमी का होता है. आज के टाईम में कई लोग बकरी पालन से हर साल अच्छी कमाई करने में कामयाब है. हालांकि, बरसात के दौरान बकरियों को कई गंभीर रोग पकड़ने का खतरा भी रहता है. इसलिए, इस मौसम में पशुपालकों द्वारा उनका खास ध्यान रखा जाता है. आज हम यह बताएंगे कि बरसात में बकरियों की देखभाल कैसे कर सकते हैं.

Also Read: पशुपालन के लिए यह सबसे अच्छा मौका, सरकार गाय-भैस खरीदने पर दे रही 40 हजार रुपये

Advertisement
सुरक्षा का ध्यान रखें

पशुपालन विभाग द्वारा जारी किये गए सुझावों के अनुसार,
बरसात में बकरियों को पानी से भरे गड्ढों या खोदे हुए
इलाकों से दूर रखें ताकि वे उसके अन्दर फंस न जाएं. बारिश से
बचाने के लिए उन्हें घर से बाहर भी शेड के नीचे रखें क्योंकि
पानी में भीगने से उनके स्वास्थ्य पर बुरा असर पड़ सकता है.

READ MORE  Animal Husbandry: सर्दी के मौसम में बढ़ाना चाहते हैं गाय-भैंस का दूध तो उन्हें खिलाएं ये आहार
खान-पान की उचित व्यवस्था करें

बरसात के समय, बकरियों के लिए स्वच्छ पानी उपलब्ध कराएं.
अगर वे बाहर रहते हैं, तो उनके लिए छत के नीचे पानी की
व्यवस्था भी अवशय करें ताकि वे ठंड और बरसात से बच सकें.
आपको उन्हें स्वच्छ और सुरक्षित भोजन भी प्रदान करना होगा.
बरसात में आप घास, चारा या अन्य विशेष आहार उन्हें दे सकते हैं.

स्वच्छता बनाए रखें

बरसात के समय इस बात का ध्यान अवश्य रखें कि बकरियों के आसपास की स्वच्छता बनी रहे. उनके लिए स्थायी या अस्थायी शेल्टर का भी इस्तेमाल करें ताकि वे ठंड और नमी से बच सकें.

Advertisement
वैक्सीनेशन दिलाएं

बकरियों के स्वास्थ्य को सही रखने के लिए उन्हें नियमित रूप से वैक्सीनेशन मुहैया अवश्य कराएं. इसके लिए पशु चिकित्सक से सलाह लें और उन्हें बकरियों के लिए अनुशासनिक टीकाकरण अनुसूची बनाने की बात कहें.

READ MORE  Animal Husbandry: सर्दी के मौसम में बढ़ाना चाहते हैं गाय-भैंस का दूध तो उन्हें खिलाएं ये आहार
आपातकालीन चिकित्सा सेवा का प्रबंधन करें

अगर आपके बकरियों को बरसाती मौसम में बीमारी या चोट लग जाती है, तो आपके पास आपातकालीन चिकित्सा सेवा का प्रावधान जरूर होना चाहिए. इसके लिए पशु चिकित्सक का नंबर सेव रखें और उनकी चिकित्सा सलाह के लिए तत्पर रहें.

Advertisement
Advertisement

Disclaimer : इस खबर में जो भी जानकारी दी गई है उसकी पुष्टि Aapniagri.com द्वारा नहीं की गई है। यह सारी जानकारी हमें सोशल और इंटरनेट मीडिया के जरिए मिली है। खबर पढ़कर कोई भी कदम उठाने से पहले अपनी तरफ से लाभ-हानि का अच्छी तरह से आंकलन कर लें और किसी भी तरह के कानून का उल्लंघन न करें। Aapniagri.com पोस्ट में दिखाए गए विज्ञापनों के बारे में कोई जिम्मेदारी नहीं लेता है।

Related posts

Bakrid 2023: आजकल बाजार में इस नस्ल के बकरों की जबरदस्त डिमांड, 55 से 60 किलो तक होता है वजन

Bansilal Balan

Animal Husbandry: सर्दी के मौसम में बढ़ाना चाहते हैं गाय-भैंस का दूध तो उन्हें खिलाएं ये आहार

Aapni Agri Desk

पालतू जानवरों का करवाएं बीमा, मिलेगी ये कई तरह की खास सुविधाएं

Bansilal Balan

Leave a Comment