Aapni Agri
योजनाएं

Scheme For Farmers: बागवानी किसानों के लिए ये है 5 सबसे महत्वपूर्ण योजनाएं, जानें कैसे इनका लाभ उठा सकते है

Scheme For Farmers:
Advertisement

Scheme For Farmers: भारत कृषी प्रधान देश है। अर्थव्यवस्था अभी भी कृषि पर निर्भर है। यह न केवल देश के लिए बल्कि किसानों के लिए भी बहुत गर्व की बात है। किसानों को बढ़ावा देने और प्रोत्साहित करने के लिए सरकार भी उनकी मदद करती है. वहीं सरकार किसानों को पारंपरिक खेती के साथ-साथ फूलों की खेती के लिए भी प्रोत्साहित कर रही है. इससे किसानों की आर्थिक स्थिति में सुधार होगा। फूलों की खेती करने वाले किसानों के लिए अच्छी खबर है। अब सरकार इस खेती के लिए किसानों को पहले से ज्यादा सब्सिडी दे रही है. ऐसे में किसानों के लिए 5 सबसे महत्वपूर्ण बागवानी योजनाएं शुरू की गई हैं. किसान इसका लाभ उठाकर मुनाफा कमा सकते हैं

Also Read: Main fertilizers used in wheat: गेहूं में दोगुने कल्ले और लंबी बालीयों के लिए पानी के साथ डालें ये तीन खाद, आमदन होगी डबल

Gardening
Gardening
Scheme For Farmers: राष्ट्रीय बागवानी मिशन (एनएचएम)

मोदी सरकार किसानों की आय बढ़ाने के लिए लगातार प्रयास कर रही है. सरकार ने किसानों के लिए कई योजनाएं शुरू की हैं. किसानों की आय बढ़ाने, भारत में बागवानी क्षेत्र का विस्तार करने और बागवानी उत्पादन बढ़ाने के उद्देश्य से 2005-06 में राष्ट्रीय बागवानी मिशन शुरू किया गया था। इस मिशन के तहत किसानों को दी जाने वाली वित्तीय सहायता में राज्य सरकार 35 से 50 प्रतिशत का योगदान देती है और बाकी राशि केंद्र सरकार द्वारा किसानों को दी जाती है।

Advertisement

Scheme For Farmers: उत्तर पूर्व और हिमालयी राज्यों के लिए बागवानी मिशन

उत्तर पूर्व और हिमालयी राज्यों के लिए बागवानी मिशन (HMNEH) भारत सरकार की एक पहल है जिसे उत्तर पूर्वी राज्यों और हिमालयी क्षेत्रों में बागवानी को बढ़ावा देने के उद्देश्य से शुरू किया गया था। इस मिशन के तहत विभिन्न क्षेत्रों में बागवानी को बढ़ावा देने, किसानों को नवाचारों और तकनीकों से अवगत कराने, उन्हें अधिक उत्पादक बनाने और उत्पादों को अच्छे बाजार तक पहुंचाने के लिए नैतिकता, प्रौद्योगिकी और व्यावसायिक योजनाएं विकसित की जाती हैं।

READ MORE  Haryana Budget 2024-25: किसान आंदोलन के दौरान सीएम खट्टर ने किया कर्जमाफी व MSP का ऐलान

इस मिशन के तहत स्थानीय उत्पादन को बढ़ावा देने, उत्पादों की गुणवत्ता में सुधार करने, उनकी पहचान और बाजार में पैठ सुनिश्चित करने के लिए कई योजनाएं और कार्यक्रम आयोजित किए जाते हैं। बागवानी हमारे देश में एक महत्वपूर्ण व्यावसायिक क्षेत्र है और इस मिशन के माध्यम से इसे और विकसित किया जा रहा है।

Scheme For Farmers: राष्ट्रीय बागवानी बोर्ड

यह भारत सरकार के कृषि मंत्रालय के अंतर्गत कार्यरत एक संस्थान है। इसका मुख्य उद्देश्य भारत में बागवानी उत्पादन को बढ़ावा देना, उत्पादन को विपणन योग्य बनाना, नवाचार और प्रौद्योगिकियों को प्रोत्साहित करना, उत्पादकों को अच्छे बीज, संसाधन और वित्तीय सहायता प्रदान करना है। एनएचबी विभिन्न बागवानी क्षेत्रों जैसे फलों, सब्जियों, फूलों, कृषि उत्पादों और यहां तक ​​कि उनके प्रसंस्करण में सहायता प्रदान करता है।

Advertisement
Scheme For Farmers: नारियल विकास बोर्ड

नारियल विकास बोर्ड (सीडीबी) भारत सरकार का एक स्वायत्त संगठन है, जिसकी स्थापना नारियल उत्पादन और प्रसंस्करण को बढ़ावा देने के लिए की गई है। इसका मुख्य उद्देश्य नारियल के विकास, उत्पादन, प्रसंस्करण, व्यापार और संबंधित क्षेत्रों को बढ़ावा देना है। सीडीबी अपनी योजनाओं के माध्यम से नारियल उत्पादकों को विभिन्न तकनीकी, वित्तीय और प्रशिक्षण संसाधन प्रदान करता है। इसके कुछ मुख्य उद्देश्य हैं:

READ MORE  Haryana Budget 2024-25: किसान आंदोलन के दौरान सीएम खट्टर ने किया कर्जमाफी व MSP का ऐलान

Also Read: Business Ideas: अभी शुरू करें ये बिजनेस, न दुकान की जरूरत न मशीन की, फिर भी बिक्री होगी धड़ाधड़

Gardening
Gardening
Scheme For Farmers: केंद्रीय बागवानी संस्थान (सीआईएच), नागालैंड

केंद्रीय बागवानी संस्थान (सीआईएच) भारत सरकार के कृषि मंत्रालय के तहत नागालैंड में स्थित एक प्रमुख संस्थान है। इसका उद्देश्य उत्तर पूर्वी राज्यों में बागवानी क्षेत्र को विकसित करना और बढ़ावा देना है। सीआईएच कृषि तकनीकों और व्यावसायिक दृष्टिकोण को बेहतर बनाने के लिए विभिन्न बागवानी क्षेत्रों में तकनीकी और व्यावसायिक सहायता प्रदान करता है। नागालैंड में सीआईएच के तहत विभिन्न प्रकार की योजनाएं लागू की जाती हैं जो बागवानी क्षेत्र में विकास को प्रोत्साहित करती हैं। यहां कुछ मुख्य उद्देश्य दिए गए हैं.

Advertisement

सीआईएच नागालैंड में बागवानी विकास को बढ़ावा देने के लिए अनुसंधान, शिक्षा और तकनीकी सहायता प्रदान करता है। इसका मुख्य उद्देश्य किसानों को बेहतर खेती करने में मदद करना और उन्हें बागवानी के क्षेत्र में नवीनतम तकनीक और जानकारी देना है।

Advertisement
READ MORE  Haryana Budget 2024-25: किसान आंदोलन के दौरान सीएम खट्टर ने किया कर्जमाफी व MSP का ऐलान

Disclaimer : इस खबर में जो भी जानकारी दी गई है उसकी पुष्टि Aapniagri.com द्वारा नहीं की गई है। यह सारी जानकारी हमें सोशल और इंटरनेट मीडिया के जरिए मिली है। खबर पढ़कर कोई भी कदम उठाने से पहले अपनी तरफ से लाभ-हानि का अच्छी तरह से आंकलन कर लें और किसी भी तरह के कानून का उल्लंघन न करें। Aapniagri.com पोस्ट में दिखाए गए विज्ञापनों के बारे में कोई जिम्मेदारी नहीं लेता है।

Related posts

PM Fasal Bima Yojana: पीएम फसल बीमा योजना सूची में अपना नाम ऐसे करें चेक, जानें यहाँ

Rampal Manda

किसानों के लिए दोहरी खुशखबरी! अब जीरो फीसदी ब्याज पर मिलेगा कर्ज, खरीफ कर्ज चुकाने की समय सीमा भी इस तारीख तक बढ़ाई

Aapni Agri Desk

Subsidy: खेत में तालाब बनाने के लिए सरकार दे रही 80 फिसदी सब्सिडी, यहां करें आवेदन

Aapni Agri Desk

Leave a Comment