Aapni Agri
योजनाएं

PMFBY documents: प्राकृतिक आपदा से खराब हो जाए फसल तो इन 6 दस्तावेजों से मिलेगा मुआवजा, जानें यहाँ

PMFBY documents:
Advertisement

PMFBY documents:  देश में हर साल प्राकृतिक आपदाओं से किसानों की फसलों को भारी नुकसान होता है। कई बार घाटा इतना ज्यादा होता है कि किसानों की पूरी पूंजी डूब जाती है. ऐसे में किसानों को फसल के नुकसान से राहत दिलाने के लिए बीमा योजनाएं शुरू की जाती हैं ताकि बुरे समय में किसानों को कुछ आर्थिक सहायता दी जा सके।

Also Read: Crop Advisory: सरसों कपास की फसल को कीटों से बचाने के लिए सबसे बेस्ट तरीका, उपज भी होगी दोगुना

Pradhan Mantri Fasal Bima Yojana: किसानों के लिए बड़ी खबर! अपने फसल की  सुरक्षा के लिए PMFBY में कराएं रजिस्ट्रेशन, 31 जुलाई तक है अंतिम मौका | Zee  Business Hindi
PMFBY documents:  पीएम किसान फसल बीमा योजना

इससे उन्हें काफी राहत मिलती है जिससे वे खुद को एक बार खेती के लिए तैयार कर पाते हैं। केंद्र सरकार की पीएम किसान फसल बीमा योजना (पीएमएफबीवाई) किसानों की मदद के लिए बनाई गई एक ऐसी योजना है। किसान इस योजना का लाभ उठा सकते हैं. खासकर ऐसे समय में जब खेती करना किसी जुए से कम नहीं है क्योंकि किसानों को अब हर साल बारिश, बाढ़ या सूखे का सामना करना पड़ता है।

Advertisement
PMFBY documents:  किसान बीमा योजना

पीएम फसल बीमा योजना का लाभ रबी और खरीफ दोनों फसलों के नुकसान की स्थिति में दिया जाता है। इसके लिए किसानों को छोटा सा प्रीमियम देना होगा. इस राशि का भुगतान करके ही किसान बीमा योजना का लाभ लेने का हकदार बन सकता है। पीएम किसान योजना के तहत किसानों को फसल बीमा कराने के लिए केवल 50 फीसदी प्रीमियम का भुगतान करना होता है।

READ MORE  Haryana Budget 2024-25: किसान आंदोलन के दौरान सीएम खट्टर ने किया कर्जमाफी व MSP का ऐलान
PMFBY documents: किसानों को सब्सिडी

शेष 50 राशि का भुगतान केंद्र और राज्य सरकार द्वारा संयुक्त रूप से किया जाता है। यह किसानों को सब्सिडी के तौर पर दिया जाता है. पीएम फसल बिना योजना रबी फसलों पर 1.5 प्रतिशत बीमा कवर प्रदान करती है। किसानों को 0.75 फीसदी प्रीमियम देना होता है, बाकी रकम सरकार सब्सिडी के तौर पर देती है.

PMFBY documents:  इन दस्तावेजों की है जरूरत

पीएम फसल बीमा का लाभ लेने के लिए किसान के पास आवेदन पत्र होना चाहिए। साथ ही इस योजना का लाभ लेने के लिए किसान को फसल बुआई प्रमाण पत्र भी दिखाना होगा. किसान के पास उस जमीन का नक्शा होना चाहिए जिसमें उसने खेती की है और उस जमीन पर कितनी फसल है जिसमें उसने फसल बीमा कराया है।किसानों के पास अपना वैध आधार कार्ड होना चाहिए। किसान के पास अपना बैंक पासबुक होना चाहिए। लाभार्थी किसान को पासपोर्ट साइज फोटो भी जमा करना होगा.

Advertisement

Also Read: Chanakya Niti For Women: इन गुणों वाली स्त्री से हो जाए विवाह तो घर परिवार हमेशा रहता है खुशियों से भरा

READ MORE  Haryana Budget 2024-25: किसान आंदोलन के दौरान सीएम खट्टर ने किया कर्जमाफी व MSP का ऐलान
Know How Insurance Companies Making Money From Pradhan Mantri Fasal Bima  Yojana - Amar Ujala Hindi News Live - प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना से ऐसे  'अमीर' हुईं बीमा कंपनियां
PMFBY documents:  ऐसे करें आवेदन

अपने नजदीकी बैंक या जिला कृषि कार्यालय से संपर्क करें। वहां आपको प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना से जुड़े फॉर्म भरने होंगे.फसल बीमा आवेदन पत्र में किसानों को अपनी फसल, भूमि और बीमा राशि से संबंधित जानकारी प्रदान करनी होगी। किसानों को इस फॉर्म के साथ सभी संबंधित दस्तावेज जमा करने होंगे। जब बैंक या कृषि कार्यालय द्वारा आवेदन स्वीकार कर लिया जाता है तो किसानों को अपने प्रीमियम की राशि का भुगतान करना होगा। प्रीमियम राशि का भुगतान करने के बाद किसानों को फसल बीमा पॉलिसी मिल जाएगी।

Advertisement
Advertisement

Disclaimer : इस खबर में जो भी जानकारी दी गई है उसकी पुष्टि Aapniagri.com द्वारा नहीं की गई है। यह सारी जानकारी हमें सोशल और इंटरनेट मीडिया के जरिए मिली है। खबर पढ़कर कोई भी कदम उठाने से पहले अपनी तरफ से लाभ-हानि का अच्छी तरह से आंकलन कर लें और किसी भी तरह के कानून का उल्लंघन न करें। Aapniagri.com पोस्ट में दिखाए गए विज्ञापनों के बारे में कोई जिम्मेदारी नहीं लेता है।

Related posts

DBT Agriculture: इस कार्ड से किसानों को मिलेगा 74 सरकारी योजनाओं का लाभ, ऐसे उठाएं फायदा

Aapni Agri Desk

Ayushman Yojana: केंद्र सरकार की तर्ज पर हरियाणा में शुरू हुई चिरायु हरियाणा योजना, मिल रहा 5 लाख रूपये तक मुफ्त इलाज

Aapni Agri Desk

हरियाणा में सोलर पंप के लिए आवेदन कल से: बिजली कनेक्शन आवेदकों को मिलेगी प्राथमिकता, नियमों में हुए कई बदलाव

Aapni Agri Desk

Leave a Comment