Aapni Agri
कृषि समाचार

Neem Organic Insecticide: घर में नीम से बनाएं जैविक कीटनाशक, जानें बनाने की विधि

Neem Organic Insecticide
Advertisement

Neem Organic Insecticide:  किसान खेतों में रासायनिक कीटनाशकों का प्रयोग करते हैं, जिससे फसलों पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ता है। ऐसे में नीम की पत्तियों और बीजों से बने कीटनाशक पौधों के लिए बहुत प्रभावी और सस्ते होते हैं।

जैविक कीटनाशक

वर्तमान समय में किसान खेतों में अच्छी पैदावार के लिए बड़ी मात्रा में रासायनिक खाद का उपयोग करते हैं। ऐसे में इन उर्वरकों से पैदा होने वाले फल, सब्जियां और अनाज के सेवन से शरीर में बीमारियां तो होती ही हैं, साथ ही पर्यावरण में भी प्रदूषण फैलता है।

Also Read: Punjab: पंजाब के अर्जुन पुरस्कार विजेता DSP की गोली मारकर हत्या, सड़क किनारे मिला शव

Advertisement
Neem Organic
Neem Organic
Neem Organic Insecticide:  बाजार में ये काफी महंगे भी हैं.

ऐसे में अगर किसान जैविक कीटनाशकों का इस्तेमाल करें तो इससे न सिर्फ उनकी खेती की लागत कम होगी, बल्कि लोगों के स्वास्थ्य पर भी इसका सकारात्मक असर पड़ेगा। जैविक खाद हमारे पर्यावरण की रक्षा करने में भी मदद करता है।

READ MORE  Haryana Budget 2024-25: किसान आंदोलन के दौरान सीएम खट्टर ने किया कर्जमाफी व MSP का ऐलान
Neem Organic Insecticide:  नीम से कीटनाशक बनाने की विधि

सबसे पहले नीम की पत्तियों को इकट्ठा कर लें और उन्हें धूप में अच्छी तरह सुखा लें।
जब नीम की पत्तियां सूख जाएं तो उन्हें पानी में भिगो दें।
फिर इस पानी से पौधों पर स्प्रे करें।
इस पानी का छिड़काव करने से फसल पर कोई असर नहीं पड़ेगा। इस पानी का उपयोग आप बैंगन, पत्तागोभी, पालक और भिंडी के पौधों पर भी कर सकते हैं.

Neem Organic
Neem Organic
Neem Organic Insecticide:  बीज से कीटनाशक बनाने की विधि

कीटनाशक बनाने के लिए सबसे पहले 6 किलो बारीक पिसे हुए नीम के बीजों को लगभग 30 से 35 लीटर पानी में चार दिनों के लिए भिगो दें।
चार दिन बाद इसमें 500 ग्राम पिसी हुई हरी मिर्च और 100 ग्राम धतूरे का रस मिलाकर लगभग 6 लीटर अर्क निकाल लें।
पौधे पर छिड़काव के लिए 3 लीटर अर्क को लगभग 30 लीटर शुद्ध पानी में मिलाकर छिड़काव करें.
यह दवा फसलों की पत्तियों पर लगे मच्छर और भृंग जैसे सभी कीटों को मार देती है।
नीम के बीजों से बने जैविक कीटनाशकों का छिड़काव करने से पौधों की अच्छी वृद्धि होती है।

Advertisement

Also Read: Mustard Wheat Gram: सरसों गेहू और चना सहित इन फसलो में करें ये काम, आमदन होगी दुगुनी

READ MORE  Haryana Budget 2024-25: किसान आंदोलन के दौरान सीएम खट्टर ने किया कर्जमाफी व MSP का ऐलान
Neem Organic
Neem Organic
Neem Organic Insecticide:  जैविक कीटनाशकों के प्रयोग के लाभ

इस कीटनाशक के उत्पादन में रासायनिक कीटनाशकों की तुलना में बहुत कम लागत आती है।
जैविक कीटनाशक कुछ ही दिनों में मिट्टी में विघटित हो जाते हैं और इनका कोई दुष्प्रभाव नहीं होता, जबकि रासायनिक कीटनाशक मिट्टी और पर्यावरण दोनों के लिए हानिकारक होते हैं।
जैविक कीटनाशक केवल हानिकारक कीटों और बीमारियों को मारते हैं, जबकि रासायनिक कीटनाशक मित्र कीटों को भी नष्ट करते हैं।

Neem Organic Insecticide: जैविक कीटनाशकों के प्रयोग

जैविक कीटनाशकों के प्रयोग से कीटों की जैविक प्रकृति में किसी भी प्रकार का परिवर्तन नहीं होता है, जबकि कीटों में रासायनिक कीटनाशकों के प्रति प्रतिरोधक क्षमता विकसित हो जाती है।
रासायनिक कीटनाशक भी पर्यावरण के लिए खतरा हैं, जबकि जैविक कीटनाशक पर्यावरण के लिए काफी फायदेमंद हैं।

Advertisement
Advertisement
READ MORE  Haryana Budget 2024-25: किसान आंदोलन के दौरान सीएम खट्टर ने किया कर्जमाफी व MSP का ऐलान

Disclaimer : इस खबर में जो भी जानकारी दी गई है उसकी पुष्टि Aapniagri.com द्वारा नहीं की गई है। यह सारी जानकारी हमें सोशल और इंटरनेट मीडिया के जरिए मिली है। खबर पढ़कर कोई भी कदम उठाने से पहले अपनी तरफ से लाभ-हानि का अच्छी तरह से आंकलन कर लें और किसी भी तरह के कानून का उल्लंघन न करें। Aapniagri.com पोस्ट में दिखाए गए विज्ञापनों के बारे में कोई जिम्मेदारी नहीं लेता है।

Related posts

CAIT Response: चावल को लेकर जारी आदेश से छोटे व्यापारियों की मुश्किलें बढ़ जाएंगी, इस रिपोर्ट में देखें पूरी जानकारी

Aapni Agri Desk

Protect milch animals: दुधारू पशुओं में सायनाइड पॉइजनिंग मचा रहा आंतक, ये रहा लक्षण और बचाव का तरीका

Rampal Manda

Agricultural Advisory: रबी फसलों की अच्छी पैदावार के लिए कृषि वैज्ञानिकों ने जारी की एडवाइजरी, किसानों को होगा मुनाफा

Rampal Manda

Leave a Comment