Aapni Agri
कृषि समाचार

Nano Fertilizer Benefits: नैनो यूरिया ने शानदार परिणाम देकर बनाई अपनी पहचान, किसानों की बढ़ी आमदनी

Nano Fertilizer Benefits:
Advertisement

Nano Fertilizer Benefits: भारतीय किसान उर्वरक सहकारी लिमिटेड (इफको) के प्रबंध निदेशक डॉ. यू.एस.अवस्थी ने कहा कि देश भर के किसानों को इफको नैनो यूरिया के प्रभावशाली परिणाम देखने को मिले हैं और वर्ष 2023 के दौरान उनकी आय में वृद्धि हुई है। इनके उपयोग से सब्सिडी का बोझ कम होगा और विदेशी मुद्रा की बचत होगी।

Nano Fertilizer Benefits:इफको नैनो यूरिया

हमने वर्ष के दौरान इफको नैनो यूरिया और इफको नैनो डीएपी की बोतलें भी निर्यात की हैं इफको के नैनो उत्पादों का देश के कृषि-खाद्य क्षेत्र पर सकारात्मक प्रभाव पड़ा है। इससे न केवल पर्यावरणीय और मानव स्वास्थ्य संबंधी समस्याएं कम हुई हैं, बल्कि टिकाऊ कृषि, मृदा संरक्षण और बेहतर आजीविका के लक्ष्यों को प्राप्त करने में भी मदद मिली है।

Also Read: Advisory for Wheat Farming: गेहूं में अगर अभी बाली निकल गई है तो जल्द करें यह काम, पढ़े कृष‍ि वैज्ञान‍िकों की सलाह

Advertisement
Nano Fertilizer Benefits: नैनो यूरिया और नैनो डीएपी के स्टॉल

इफको ने उत्तर प्रदेश और झारखंड के विभिन्न जिलों में नैनो यूरिया और नैनो डीएपी के स्टॉल लगाकर 30,000 ड्रोन स्प्रे का प्रदर्शन किया. इसके अलावा, किसानों के बीच जागरूकता पैदा करने के लिए देश भर में लगभग 52,000 प्रधान मंत्री किसान समृद्धि केंद्र स्थापित किए गए हैं। इफको देश भर में नई तकनीकों को अपनाकर देश के लाखों किसानों का कायाकल्प करने और खाद्य सुरक्षा सुनिश्चित करने की दिशा में काम करना जारी रखेगा।

READ MORE  Haryana Budget 2024-25: किसान आंदोलन के दौरान सीएम खट्टर ने किया कर्जमाफी व MSP का ऐलान
नैनो तरल यूरिया के फायदे जानते हैं? नहीं तो कृषि जानकारों से जानिए
Nano Fertilizer Benefits: ड्रोन पायलट महिलाओं की महत्वपूर्ण भागीदारी

अवस्थी ने कहा कि एआई आधारित कृषि ड्रोन प्रौद्योगिकी के क्षेत्र में कदम रखते हुए इफको किसान ड्रोन किसानों को नैनो यूरिया और नैनो डीएपी के छिड़काव के लिए उपलब्ध कराया गया है। हमारी पहल से देश भर में कुल 5000 ग्रामीण उद्यमी तैयार होंगे। प्रधान मंत्री की नमो ड्रोन दीदी पहल से प्रेरित होकर, इफको ग्रामीण महिलाओं को कृषि ड्रोन पायलट के रूप में प्रशिक्षित कर रहा है। इससे ग्रामीण महिलाएं सशक्त होंगी और वे कृषि क्रांति में अग्रणी भूमिका नहीं निभाएंगी।

क्या है नैनो यूरिया और कैसे करता है ये काम
Nano Fertilizer Benefits: संस्थान कृषि में ड्रोन के उपयोग पर ध्यान केंद्रित कर रहा

डॉ। अवस्थी ने कहा कि संस्थान कृषि में ड्रोन के उपयोग पर ध्यान केंद्रित कर रहा है। कृषि ड्रोन के 50,000 से अधिक फील्ड परीक्षण किए गए हैं और 600 से अधिक ग्रामीण उद्यमियों को ट्रेंड किया गया है। इनमें 300 महिलाएं भी शामिल हैं, जिन्हें नमो ड्रोन दीदी पायलट कहा जाता है। सटीक कृषि की ओर बढ़ते हुए, इफको ने पिछले साल इफको किसान ड्रोन द्वारा नैनो उर्वरकों के छिड़काव की एक नई उभरती हुई तकनीक को अपनाया, जो आधुनिक कृषि के लिए परिवर्तनकारी साबित हुई। इससे किसानों को उत्पादकता बढ़ाने और इनपुट लागत कम करने में मदद मिलेगी।

Advertisement

Also Read: Farming: बवासीर के मरीजों के लिए रामबाण है ये सब्जी, किसान भी खेती करगें हो रहे है मालामाल

READ MORE  Haryana Budget 2024-25: किसान आंदोलन के दौरान सीएम खट्टर ने किया कर्जमाफी व MSP का ऐलान
Nano Fertilizer Benefits: नैनो उर्वरकों के नये संयंत्र का शुभारम्भ

अवस्थी ने एक बयान में कहा कि इफको प्रधानमंत्री के “सहयोग के माध्यम से समृद्धि” के संकल्प की दिशा में काम कर रहा है। इसलिए वह किसानों के लिए नैनो यूरिया और डीएपी जैसे गेम चेंजर उर्वरक लेकर आए। गृह एवं सहकारिता मंत्री अमित शाह ने नैनो डीएपी लॉन्च किया। उन्होंने कलोल में भारत का पहला इफको नैनो डीएपी संयंत्र भी समर्पित किया। उन्होंने देवघर में इफको नैनो यूरिया प्लांट और कांडला में इफको नैनो डीएपी प्लांट की आधारशिला भी रखी. दूसरी ओर, केंद्रीय रसायन एवं उर्वरक मंत्री डाॅ. मनसुख मांडविया ने आंवला और फूलपुर में इफको नैनो यूरिया संयंत्र का उद्घाटन किया। इन नेताओं ने नैनो उर्वरकों को प्रदूषण रोधी और किसानों की आय बढ़ाने वाला बताया.

Advertisement
READ MORE  Haryana Budget 2024-25: किसान आंदोलन के दौरान सीएम खट्टर ने किया कर्जमाफी व MSP का ऐलान
Advertisement

Disclaimer : इस खबर में जो भी जानकारी दी गई है उसकी पुष्टि Aapniagri.com द्वारा नहीं की गई है। यह सारी जानकारी हमें सोशल और इंटरनेट मीडिया के जरिए मिली है। खबर पढ़कर कोई भी कदम उठाने से पहले अपनी तरफ से लाभ-हानि का अच्छी तरह से आंकलन कर लें और किसी भी तरह के कानून का उल्लंघन न करें। Aapniagri.com पोस्ट में दिखाए गए विज्ञापनों के बारे में कोई जिम्मेदारी नहीं लेता है।

Related posts

Nitrogen Fertilizer: फसलों में नाइट्रोजन खाद का इस्तेमाल करें ऐसे, समझें इन पॉइंट्स में

Rampal Manda

Weather Alert: घना कोहरे से फसलें हो रही खराब, किसान ऐसे करें कोहरे का समाधान

Rampal Manda

Agriculture budget 2024: फसल बर्बादी रोकने को एग्री प्रॉसेसिंग यूनिट की मजबूती बेहद आवश्यक, बजट में किसानों पर मेहरबान हो सकती है सरकार

Rampal Manda

Leave a Comment