Aapni Agri
पशुपालनयोजनाएं

Goat Farming Scheme: किसानों को दिया जा रहा है बकरी पालन का प्रशिक्षण, ऐसे उठाएं लाभ

Goat Farming Scheme: किसानों को दिया जा रहा है बकरी पालन का प्रशिक्षण, ऐसे उठाएं लाभ
Advertisement

Goat Farming Scheme: किसान खेती के साथ-साथ पशुपालन करके भी अपनी आय बढ़ा सकते हैं। इसके लिए सरकार की ओर से किसानों को प्रोत्साहित भी किया जा रहा है. सरकार अपनी योजनाओं के माध्यम से किसानों को पशुपालन के लिए सब्सिडी, ऋण और अन्य सुविधाएं प्रदान करती है। किसानों को गाय से लेकर बकरी पालन तक हर चीज के लिए सरकार की ओर से सब्सिडी दी जाती है। इसके साथ ही बकरी पालन की आधुनिक तकनीक सिखाने के लिए समय-समय पर प्रशिक्षण कार्यक्रम भी चलाए जाते हैं।

इसी कड़ी में राज्य सरकार द्वारा बकरी पालन करने वाले किसानों के लिए पहला भेड़-बकरी केंद्र खोला जा रहा है. यह सेंटर यूपी के इटावा में खोला जा रहा है. इस केंद्र में किसानों को बकरी और भेड़ पालन का उचित प्रशिक्षण दिया जाएगा ताकि वे बकरी पालन व्यवसाय से अधिक लाभ प्राप्त कर सकें।

Also Read: Loan Waiver Scheme: 33 हजार किसानों का कर्ज माफ, नई सूची जारी, देखें अपना नाम

Advertisement

आज हम आपको बताएंगे कि बकरी पालन प्रशिक्षण के तहत किन किसानों को बकरी पालन का प्रशिक्षण दिया जाएगा, प्रशिक्षण के दौरान किसानों को क्या सुविधाएं मिलेंगी, किसानों को बकरी पालन प्रशिक्षण के लिए कहां आवेदन करना होगा और किसानों को क्या मिलेगा इस प्रशिक्षण से. क्या होगा फायदा आदि के बारे में हम जानकारी दे रहे हैं तो आइए जानते हैं पूरी जानकारी।

किन किसानों को मिलेगा बकरी पालन का प्रशिक्षण?

यूपी सरकार द्वारा बकरी पालन प्रशिक्षण केंद्र इटावा में बकरी पालन का प्रशिक्षण दिया जाएगा। इसमें राज्य के बकरी पालक किसान आवेदन कर सकते हैं. इसके लिए किसान का राज्य का मूल निवासी होना आवश्यक है। दूसरे राज्यों के किसान इसके लिए आवेदन नहीं कर सकते.

READ MORE  Haryana Budget 2024-25: किसान आंदोलन के दौरान सीएम खट्टर ने किया कर्जमाफी व MSP का ऐलान
इन बकरियों की नस्लों के पालन के बारे में जानकारी दी जाएगी

भेड़-बकरी प्रशिक्षण केंद्र में लगभग सभी नस्ल की बकरियों को पालने का प्रशिक्षण दिया जाएगा. लेकिन इसमें खास तौर पर फिलहाल बारबरी, जमुनापारी और ब्लैक गोट नस्ल की बकरियों को पालने की ट्रेनिंग दी जाएगी. आपको बता दें कि यह बकरी की सबसे अच्छी नस्लों में गिनी जाती है, जिसका पालन करके किसान अच्छा मुनाफा कमा सकते हैं।

Advertisement
प्रशिक्षण के दौरान किसानों को क्या सुविधाएं मिलेंगी?
Also Read: Kisan News: किसानों को मिलेगा दोहरा फायदा, ऐसे करें प्याज की खेती

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, प्रदेश के किसानों को प्रशिक्षण के दौरान इटावा (यूपी) के भेड़-बकरी प्रशिक्षण केंद्र में आवास और भोजन की सुविधा उपलब्ध कराई जाएगी, ताकि किसान बिना किसी परेशानी के प्रशिक्षण कार्यक्रम में भाग ले सकें. किसानों को दोनों समय भोजन और रहने के लिए कमरा उपलब्ध कराया जाएगा। यह प्रशिक्षण कार्यक्रम पूर्णतः आवासीय होगा जिसमें किसान रहकर बकरी पालन का प्रशिक्षण प्राप्त कर सकेंगे।

बकरी पालन प्रशिक्षण के लिए आप कहां आवेदन कर सकते हैं?

अगर आप यूपी के पशुपालक हैं और बकरी पालन का प्रशिक्षण लेना चाहते हैं तो आप भेड़-बकरी केंद्र की आधिकारिक वेबसाइट http://www.cirg.res.in/ पर जाकर इसके लिए ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं। इसके अलावा किसान केंद्रीय बकरी अनुसंधान संस्थान, मथुरा से भी संपर्क कर सकते हैं.

READ MORE  Haryana Budget 2024-25: किसान आंदोलन के दौरान सीएम खट्टर ने किया कर्जमाफी व MSP का ऐलान
बकरी पालन प्रशिक्षण से क्या होंगे फायदे?

बकरी पालन प्रशिक्षण में आपको बकरियों के उचित रख-रखाव की जानकारी दी जायेगी। इसके तहत बकरियों के आवास, उनके भोजन, उनकी बीमारियों और उपचार आदि से संबंधित जानकारी दी जाएगी। इससे आपको बकरी पालन या उनका व्यवसाय करने में आसानी होगी. प्रशिक्षण के बाद किसानों को बकरी पालन प्रशिक्षण का प्रमाण पत्र भी दिया जाएगा। इस सर्टिफिकेट का सबसे बड़ा फायदा यह होगा कि आप किसी भी नजदीकी बैंक में जाकर बकरी पालन व्यवसाय के लिए लोन ले सकेंगे.

Advertisement
बकरी पालन के लिए बैंक से कितना लोन मिल सकता है?

अगर आप 10 बकरियों और एक बकरी के साथ बकरी पालन का व्यवसाय शुरू करना चाहते हैं तो आपको इसके लिए 50,000 रुपये से लेकर 1 लाख 50 हजार रुपये तक का बैंक लोन मिल सकता है. अगर आप 20 बकरियों और 2 बकरियों के साथ बकरी पालन का बिजनेस खोलना चाहते हैं तो आपको उसी हिसाब से बैंक लोन मिल जाएगा. आपको बता दें कि आईडीबीआई बैंक बकरी पालन व्यवसाय के लिए 50 हजार रुपये से लेकर 50 लाख रुपये तक का लोन देता है. वहीं, भारतीय स्टेट बैंक से बकरी पालन के लिए 50 हजार रुपये से लेकर 4 लाख रुपये तक का लोन मिल सकता है. वहीं प्रधानमंत्री मुद्रा लोन के तहत बकरी पालन के लिए 50 हजार रुपये से लेकर 10 लाख रुपये तक का बिजनेस लोन मिल सकता है. यह ऋण बैंक द्वारा बकरी खरीदने, बकरी का चारा खरीदने, बकरियों के लिए घर बनाने के लिए दिया जाता है जिनका उपयोग शेड के रूप में किया जाता है।

READ MORE  Haryana Budget 2024-25: किसान आंदोलन के दौरान सीएम खट्टर ने किया कर्जमाफी व MSP का ऐलान
Also Read: Agricultural Machinery Subsidy: किसानों को आधी कीमत पर मिल रही 10 कृषि मशीनें, यहां करें आवेदन
बकरी पालन के लिए लोन पर कितनी सब्सिडी मिल सकती है?

अगर आप बकरी पालन के लिए बैंक से लोन लेना चाहते हैं तो यूपी के किसानों को इसके लिए सरकार की ओर से 90 फीसदी तक की सब्सिडी दी जाती है. किसान को केवल 10 फीसदी राशि ही खर्च करनी होगी. ऐसे में राज्य सरकार किसानों को बकरी पालन के लिए प्रोत्साहित कर रही है.

बकरी पालन से आपको क्या लाभ मिलेगा?

पशुपालक किसानों को बकरी पालन से दूध और मांस प्राप्त होता है। बकरी का दूध बहुत पौष्टिक माना जाता है. इसके अलावा इसके मूत्र का उपयोग उर्वरक के रूप में किया जाता है। खास बात यह है कि बकरी पालन में लागत कम आती है. बकरी के लिए भोजन और आश्रय की कोई विशेष व्यवस्था नहीं करनी पड़ती है। किसान चाहें तो इसे अपने घर के बाहर खाली जगह पर भी बांध सकते हैं. बकरी पालन के लिए सरकार की ओर से सब्सिडी मिलती है और किसान चाहे तो बकरी पालन व्यवसाय के लिए बैंक से लोन भी ले सकता है.

Advertisement
Advertisement

Disclaimer : इस खबर में जो भी जानकारी दी गई है उसकी पुष्टि Aapniagri.com द्वारा नहीं की गई है। यह सारी जानकारी हमें सोशल और इंटरनेट मीडिया के जरिए मिली है। खबर पढ़कर कोई भी कदम उठाने से पहले अपनी तरफ से लाभ-हानि का अच्छी तरह से आंकलन कर लें और किसी भी तरह के कानून का उल्लंघन न करें। Aapniagri.com पोस्ट में दिखाए गए विज्ञापनों के बारे में कोई जिम्मेदारी नहीं लेता है।

Related posts

मुर्गी और बकरी के लिए भी मिलेगा लोन…जानिए कैसे करें आवेदन

Aapni Agri Desk

Agricultural Machinery: कृषि यंत्रो पर सरकार देगी 50% से 80% सब्सिडी, जल्द करें आवेदन

Rampal Manda

Loan Waiver Scheme: 33 हजार किसानों का कर्ज माफ, नई सूची जारी, देखें अपना नाम

Aapni Agri Desk

Leave a Comment