Aapni Agri
पशुपालनयोजनाएं

Dairy Farming: डेयरी खोलने के लिए मिलेगा 20 लाख रुपये का लोन, ऐसे उठाएं लाभ

Dairy Farming
Advertisement

Dairy Farming: किसानों की आय बढ़ाने के उद्देश्य से उन्हें खेती के साथ-साथ पशुपालन करने के लिए प्रोत्साहित किया जा रहा है। इसके लिए उन्हें डेयरी खोलने के लिए बैंक से लोन भी दिया जाता है. हाल ही में केंद्र सरकार ने डेयरी व्यवसाय के विकास के लिए पशुपालन अवसंरचना विकास कोष के निर्माण को मंजूरी दे दी है। यह फंड 29,610.25 करोड़ रुपये के परिव्यय के साथ 2025-26 तक जारी रहेगा। ऐसे में अब अधिक पशुपालक किसानों को पशु डेयरी खोलने के लिए लोन मिल सकेगा.

Dairy Farming: डेयरी खोलने पर कितनी सब्सिडी मिलेगी?

Also Read: Protect milch animals: दुधारू पशुओं में सायनाइड पॉइजनिंग मचा रहा आंतक, ये रहा लक्षण और बचाव का तरीका

Dairy Farming: नाबार्ड के माध्यम से सरकार डेयरी उद्यमिता विकास (डीईडीएस) योजना के तहत किसानों को डेयरी फार्मिंग के लिए सब्सिडी का लाभ प्रदान करती है। इस योजना के तहत छोटी डेयरी इकाइयों को ऋण दिया जाता है। इस योजना के तहत किसान राष्ट्रीय कृषि ग्रामीण विकास बैंक से संबद्ध बैंकों से ऋण प्राप्त कर सकते हैं।

Advertisement
Dairy Farming
Dairy Farming

इस योजना के तहत लागत का 33.33 फीसदी तक सब्सिडी दी जाती है. डेयरी उद्यमिता योजना के तहत 10 भैंसों की डेयरी खोलने पर 7 लाख रुपये की सब्सिडी दी जाती है. इसमें सामान्य वर्ग के लाभार्थियों को 25 प्रतिशत सब्सिडी दी जाती है। जबकि अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति, अत्यंत पिछड़ा वर्ग और महिलाओं को 33.33 फीसदी सब्सिडी दी जाती है.

READ MORE  farm pond scheme: खेतों में तालाब बनाने के लिए मिल रही भारी सब्सिडी, जानें शर्तें और आवेदन का सही तरीका

Also Read: Chanakya Niti: ऐसे मर्दों को देखकर मोहित हो जाती है महिलाएं, जानिए राज

Dairy Farming: डेयरी  फार्मिंग में इस्तेमाल होने वाली कौन सी वस्तुएं खरीदने के लिए लोन मिलता है?

Dairy Farming:इस योजना के तहत डेयरी व्यवसाय में उपयोग होने वाली मशीनें जैसे दूध निकालने की मशीन, चारा क्रशिंग मशीन, मिल्कटेस्टर, बल्क मिल्क कूलिंग यूनिट की खरीद के लिए 20 लाख रुपये तक का बैंक ऋण दिया जाता है। इतना ही नहीं, इस योजना के तहत आप गाय खरीदने और डेयरी प्लांट के लिए शेड लेने के लिए बैंक से लोन पर सब्सिडी का लाभ भी प्राप्त कर सकते हैं.

Advertisement
Dairy Farming
Dairy Farming

डेयरी उद्यमिता विकास (डीईडीएस) के तहत पशुपालक किसान को डेयरी खोलने के लिए कुल लागत का कम से कम 10 प्रतिशत निवेश करना होता है। बाकी हिस्सा बैंक से लोन के तौर पर लिया जा सकता है, यानी आपको बैंक से 90 फीसदी तक लोन मिल जाता है. ब्याज पर ब्याज पर सरकार की ओर से सब्सिडी दी जाती है.

READ MORE  Haryana government: बारिश से बर्बाद हुई फसल का मुआवजा दे रही हरियाणा सरकार, 10 मार्च तक करा लें रजिस्ट्रेशन

Also Read: Heat in February: फरवरी की गर्मी से गेहूं को हो सकता है भारी नुकसान, इन उपायों से बचाएं अपनी फसल को

Dairy Farming: डेयरी खोलने के लिए लोन के लिए आवेदन कैसे करें

Dairy Farming: डेयरी बिजनेस खोलने के लिए सबसे पहले आपको अपनी डेयरी का रजिस्ट्रेशन कराना होगा. इसके बाद आप बैंक जाकर डेयरी लोन के लिए आवेदन कर सकते हैं. फॉर्म के साथ आपको जिस डेयरी को खोलने जा रहे हैं उसकी एक प्रोजेक्ट रिपोर्ट बनाकर बैंक में जमा करानी होगी. अगर बैंक आपके द्वारा दिए गए फॉर्म को वेरिफाई करेगा तभी आपको बैंक से डेयरी खोलने के लिए लोन और सब्सिडी का लाभ मिल पाएगा.

Advertisement
Dairy Farming
Dairy Farming

बैंक लोन के लिए आपके पास आधार कार्ड और पैन कार्ड समेत वो सभी जरूरी दस्तावेज होने चाहिए जो बैंक द्वारा मांगे जाते हैं. इसके अलावा और भी कई दस्तावेजों की जरूरत होती है, जिसकी जानकारी फॉर्म भरने से पहले बैंक से ले लेनी चाहिए. आपको बता दें कि भारतीय स्टेट बैंक समेत कई सहकारी बैंक डेयरी खोलने के लिए लोन देते हैं. यह जानकारी आप अपने नजदीकी बैंक शाखा से प्राप्त कर सकते हैं।

READ MORE  PM-Kisan: इन किसानों का होगा पाई-पाई का हिसाब, हरियाणा ने दी चौंकाने वाली रिपोर्ट

Also Read: Wife Property Rights: शादी के बाद किसके पास होगी जमीन, किसके पास होंगे कितने अधिकार?

Dairy Farming
Dairy Farming
Dairy Farming: योजना के बारे में अधिक जानकारी के लिए कहां संपर्क करें

Dairy Farming: डेयरी उद्यमिता विकास योजना (डीईडीएस) के बारे में अधिक जानकारी के लिए आप अपने जिले के निकटतम नाबार्ड बैंक शाखा कार्यालय से संपर्क कर सकते हैं। इसके अलावा आप नाबार्ड की आधिकारिक वेबसाइट https://nabard.org पर जाकर भी जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।

Advertisement

Also Read: Advisory for Wheat Crop: गेहूं में लगने वाले रतुआ रोग का रामबाण इलाज, जानें यहाँ

Advertisement

Disclaimer : इस खबर में जो भी जानकारी दी गई है उसकी पुष्टि Aapniagri.com द्वारा नहीं की गई है। यह सारी जानकारी हमें सोशल और इंटरनेट मीडिया के जरिए मिली है। खबर पढ़कर कोई भी कदम उठाने से पहले अपनी तरफ से लाभ-हानि का अच्छी तरह से आंकलन कर लें और किसी भी तरह के कानून का उल्लंघन न करें। Aapniagri.com पोस्ट में दिखाए गए विज्ञापनों के बारे में कोई जिम्मेदारी नहीं लेता है।

Related posts

Big Change in Solar Pump Subsidy: सोलर पंप के लिए अब खेत में माइक्रो इरिगेशन लगाना हुआ अनिवार्य

Aapni Agri Desk

PMFBY: क‍िसानों के ल‍िए ‘सुरक्षा कवच’ जैसा काम कर रही फसल बीमा योजना, 100 रुपये के ब्याज पर म‍िला रहा 502 रुपये तक का बीमा

Rampal Manda

PMFBY: फसल बीमा से जुड़ी समस्याओं का समाधान हुआ आसान, शुरू हुई ये सुविधा

Aapni Agri Desk

Leave a Comment