Aapni Agri
पशुपालन

Dairy cattle: भारी ठंड में इन बीमारियों का शिकार हो रहे दुधारू पशु, इन तरीकों से करें बचाव

Dairy cattle:
Advertisement

Dairy cattle:  देश के कई हिस्सों में ठंड लगातार बढ़ती जा रही है। शीतलहर और कोहरे का प्रकोप जारी है, वहीं बारिश ने परेशानी बढ़ा दी है। ऐसे समय में किसानों को अपने खेत के साथ-साथ जानवरों पर भी विशेष ध्यान देना होगा. जिससे किसान अपने पशुओं को ठंड से बचा सकें। ठंड के मौसम का सबसे ज्यादा असर डेयरी मवेशियों पर पड़ता है। ठंड के कारण सबसे पहले दूध कम हो जाता है। इसके अलावा, शीत लहरें पशुओं में विभिन्न बीमारियों का कारण बन सकती हैं। यह रोग कभी-कभी पशुओं की जान ले लेता है, जिससे किसानों को आर्थिक नुकसान होता है।

Also Read: Crops cure fog: इन फसलों के लिए रामबाण है कोहरा, जमकर करेगा फायदा

Dairy cattle:  डेयरी मवेशियों में सर्दी की शिकायत

अत्यधिक ठंड डेयरी मवेशियों में सर्दी की शिकायत का सबसे आम कारण है। इससे निमोनिया, दस्त, अस्थमा, पैर और मुंह की बीमारी और गले की बीमारी भी हो सकती है। ऐसे में डेयरी पशुओं को ठंड से बचाने के उपाय करने चाहिए। सर्दियों में अक्सर किसान अपने पशुओं को बचा हुआ भोजन या हरा चारा दे देते हैं, जिससे उनके पेट में गैस बन जाती है, जिसे अफ़ारा रोग कहा जाता है। वाचाघात होने पर पशु चिड़चिड़ा हो जाता है। इस रोग से बचाव के लिए पशुओं को सर्दी के मौसम में हरे चारे के साथ सूखा चारा अधिक खिलाएं तथा इसके साथ गुड़ भी खिलाएं। इसके अलावा वाचाघात होने पर तारपीन को सरसों के तेल में मिलाकर पिलाएं।

Advertisement
सर्दियों में कैसे करें अपने दुधारू पशुओं की देखभाल, डॉक्टर से जानें काम के  सुझाव, how-to-take-care-of-animals-during-winter-season-know-from-expert
Dairy cattle:  निमोनिया है तो इस विधि का प्रयोग करें

सर्दियों में पशुओं को भी निमोनिया हो जाता है। क्योंकि गायों को अक्सर खुले में या ओस में बांधा जाता है। निमोनिया के कारण गाय की आँखों और नाक से पानी गिरने लगता है और पशु को बुखार हो जाता है जिससे वह सुस्त हो जाता है। इससे बचने के लिए रात के समय जानवरों को खुले आसमान के नीचे न बांधें। उन्हें तभी बाहर निकालें या नहलाएं जब सूरज चमक रहा हो या मौसम गर्म हो। स्काईमेट के अनुसार, बीमार पशु को बारीक कटी हुई नौसादर, अदरक और अजवाइन को 250 ग्राम गुड़ के साथ मिलाकर दिन में दो बार दें। इसके अलावा जानवरों को एंटीबायोटिक्स का इंजेक्शन लगाएं और उनके आवास को सूखा रखें।

ठंड के मौसम में पशुओं की देखभाल | Pashudhan praharee
Dairy cattle:  ऐसे करें सर्दी से बचाव

इन सबके अलावा सर्दियों में जानवरों को भी ठंड लगती है। इससे दूध उत्पादन प्रभावित होता है. सर्दी-जुकाम के बाद जानवरों की नाक बंद हो जाती है और सांस लेने में दिक्कत होती है। पशुओं की नाक बंद होने पर एक बाल्टी में गर्म उबलता पानी लें और ऊपर से घास डाल दें। फिर जानवर की नाक में एक मोटा कपड़ा रखें। इससे पशुओं की बंद नाक खुल जायेगी. इस विधि को सावधानी से करें ताकि जानवरों को गर्म पानी से जलन न हो। इसके अलावा अजवाइन, धनिया और मेथी को भी काट कर पानी में उबाल लें. फिर हल्का गर्म होने पर पशुओं को दें। इससे पशु को आराम मिलेगा.

Also Read: Fodder: अब आलू और पराली से बनेगा बकरियों के लिए स्वादिष्ट चारा, जानें कैसे?

Advertisement
ठंड के मौसम में अपने दुधारू पशुओं की देखभाल कैसे करें, जानें तरीका - How to  take care of your dairy cattle in cold weather -
Dairy cattle:  सफाई ही है थनैला से बचाव का उपाय

इसके अलावा दुधारू पशुओं में थनैला रोग का प्रकोप देखा जा रहा है। इसके प्रभाव से निपल्स में सूजन, दर्द और अकड़न होने लगती है। इसके अलावा, निपल्स से फटा हुआ, जमा हुआ दही जैसा दूध निकलता है। दूध से बदबू आती है और थन में गांठें पड़ जाती हैं। इसकी रोकथाम के लिए दूध दोहने के बाद थन पर बीटाडीन लगाएं और थन को अच्छी तरह साफ करें। स्वच्छता ही इस बीमारी का इलाज है। यदि आप बीमार हैं तो अपने पशुचिकित्सक से भी संपर्क करें।

Advertisement

Disclaimer : इस खबर में जो भी जानकारी दी गई है उसकी पुष्टि Aapniagri.com द्वारा नहीं की गई है। यह सारी जानकारी हमें सोशल और इंटरनेट मीडिया के जरिए मिली है। खबर पढ़कर कोई भी कदम उठाने से पहले अपनी तरफ से लाभ-हानि का अच्छी तरह से आंकलन कर लें और किसी भी तरह के कानून का उल्लंघन न करें। Aapniagri.com पोस्ट में दिखाए गए विज्ञापनों के बारे में कोई जिम्मेदारी नहीं लेता है।

Related posts

Surti Nasal Buffalo: पाले सुरती नस्ल की भेंस मालामाल होंगे किसान, देती है 15 लीटर दूध हर रोज

Rampal Manda

Goat Farming: अपनी भेड़-बकरी और छोटे मैमनों को ठंड से बचाएगा CIRG का खास घर, जानें कैसे करें इसे तैयार

Rampal Manda

Goat Farming: बकरियों की ये 5 नस्लें बढ़ायेगी आपकी कमाई, जानें इनकी विशेषताएं

Aapni Agri Desk

Leave a Comment