Aapni Agri
कृषि समाचार

boron deficiency wheat: गेहूं में बोरोन का प्रयोग पैदावार बढ़ाने में है मददगार, जानें कब करें प्रयोग

boron deficiency wheat:
Advertisement

boron deficiency wheat:  गेहूं में बजाई से लेकर कटाई तक अनेक अवस्थाओं में पौधे को तरह-तरह की पोषक तत्वों की आवश्यकता पड़ती है। कुछ पोषक तत्वों की आवश्यकता इतनी कम मात्रा में पड़ती है, की किसान भाई उनका ध्यान नहीं रखते और इससे उनकी पैदावार घट सकती है। यह सामान्य रह सकती है।

boron deficiency wheat: बोरोन की कमी के पहचान नहीं कर पाते किसान

अधिक पैदावार लेने के लिए आपको पौधे को सभी तरह के पोषक तत्व समय पर देने पड़ते हैं। तभी आप गेहूं से बंपर पैदावार ले सकते हैं। ऐसे ही अधिकतर किसानों को गेहूं में बोरोन की कमी के पहचान नहीं कर पाते। इसलिए उन्हें समस्याओं का सामना करना पड़ता है। बोरोन की कमी की पहचान इसको दूर करने के उपाय के बारे में जानने के लिए कृपया पुरा लेख पढ़ें।

READ MORE  Haryana Budget 2024-25: किसान आंदोलन के दौरान सीएम खट्टर ने किया कर्जमाफी व MSP का ऐलान

Also Read: Mustard Price 29 January 2024: सरसों के दाम गिरे, तुरंत चेक करें आज का ताजा रेट

Advertisement
boron deficiency wheat:  गेहूं में बोरोन की कमी की पहचान

गेहूं में बोरोन की कमी को आसानी से पहचाना जा सकता है। बोरोन की कमी से गेहूं के पत्ते गोल होकर लिपट जाते हैं। पत्तियां किनारो से हल्की कटी हुई दिखाई देती है। अगर आपको अपनी फसल में ऐसे लक्षण देखे तो यह बोरोन की कमी होती है।

गेहूं में सूक्ष्म पोषक तत्वों की कमी के लक्षण और निदान - Krishak Jagat  (कृषक जगत)
boron deficiency wheat:  गेहूं में बोरोन के फायदे

अगर आप अपनी फसल में बोरोन का प्रयोग करते हैं। तो आपकी बाली खाली नहीं रहते, बल्कि पूरी तरह से दोनों से भर जाती है। जिससे किसानों की पैदावार बढ़ती है।
फूलों से फल बनने की प्रक्रिया को बोरोन तेज करता है। जिससे दाने का आकार और वजन बढ़ता है।
बोरोन दोनों की चमक को बढ़ाता है। फूलों को झड़ने से रोकता है।

READ MORE  Haryana Budget 2024-25: किसान आंदोलन के दौरान सीएम खट्टर ने किया कर्जमाफी व MSP का ऐलान

Also Read: white rot disease: सरसों में सफेद रोली रोग से निपटने के किसान तुरंत करें ये काम, लहलहा उठेगी फसल

Advertisement
गेहूं में बोरोन कब डालें/गेहूं में बोरोन डालने के फायदे क्या हैं/Gehu me boron  kab dale/Gehu me khad - YouTube
boron deficiency wheat:  बोरोन की कमी को दूर करने के उपाय

अगर आपको अपने खेत में बोरोन की कमी दिख रही है। तो इसके लिए बोरोन 20% वाला 100 से 120 ग्राम प्रति एकड़ के हिसाब से स्प्रे कर सकते हैं। अगर आपको बोरोन की कमी अपनी फसल में नहीं दिख रही। तो आप गोभ अवस्था और फूल अवस्था के समय अपनी फसल में 1 ग्राम प्रति लीटर के हिसाब से बोरोन का स्प्रे कर सकते हैं। बाजार में तरल बोरोन भी काफी कंपनी द्वारा दिया जाता है ,आप उसका भी प्रयोग कर सकते है।

READ MORE  Haryana Budget 2024-25: किसान आंदोलन के दौरान सीएम खट्टर ने किया कर्जमाफी व MSP का ऐलान

 

Advertisement
Advertisement

Disclaimer : इस खबर में जो भी जानकारी दी गई है उसकी पुष्टि Aapniagri.com द्वारा नहीं की गई है। यह सारी जानकारी हमें सोशल और इंटरनेट मीडिया के जरिए मिली है। खबर पढ़कर कोई भी कदम उठाने से पहले अपनी तरफ से लाभ-हानि का अच्छी तरह से आंकलन कर लें और किसी भी तरह के कानून का उल्लंघन न करें। Aapniagri.com पोस्ट में दिखाए गए विज्ञापनों के बारे में कोई जिम्मेदारी नहीं लेता है।

Related posts

Wheat Crop: पछेती गेहूं में तुरंत करें ये काम, नहीं घटेगी पैदावार

Rampal Manda

Support Price Wheat: समर्थन मूल्य पर अब गेहूं बेचने के लिए सरकार ने उठाया बड़ा कदम, फसल गिरदावरी करना हुआ जरूरी

Rampal Manda

Advisory for Farmers: आलू टमाटर की फसल में झुलसा रोग का खतरा, जानें समाधान

Rampal Manda

Leave a Comment