Aapni Agri
पशुपालन

Animal Care: जानें सर्दियों के मौसम में गाय-भैंस के लिए कैसे बरते सावधानी

Animal Care:
Advertisement

Animal Care:  जहाँ तक दुधारू भैंसों की बात है, आज एक अच्छी नस्ल और अच्छा दूध देने वाली भैंस की कीमत 80,000 रुपये से लेकर 1 लाख रुपये तक है। अगर भैंस की देखभाल के दौरान थोड़ी सी भी लापरवाही हुई और कोई 19-20 घटना घट गई तो भैंस की मौत पर सीधे 1 लाख रुपये का नुकसान होता है. विशेषकर सर्दी के मौसम में गाय और भैंस के बाड़े को बहुत अधिक देखभाल की आवश्यकता होती है। और सबसे खास बात यह है कि दिसंबर-जनवरी के महीने में जानवरों को ठंड का ज्यादा सामना करना पड़ता है। ग्रीष्म ऋतु में गर्भाधान कराए गए पशु इस अवधि के दौरान बच्चे दे रहे होते हैं।

Also Read: Agricultural Equipment Grant Scheme: किसानों के लिए खुशखबरी! हैप्पी सीडर व सुपर सीडर पर भारी सब्सिडी, जानें आवेदन का तरीका

READ MORE  Pashu Kisan Credit Card: हरियाणा में पशुपालकों की बनी चांदी, ऐसे मिले 2000 करोड़ रुपये
Animal Care:  पशु विशेषज्ञों के मुताबिक

पशु विशेषज्ञों के मुताबिक, जानवरों के लिए पीक सीजन अक्टूबर से जनवरी के बीच होता है। इसलिए इस मौसम में जानवरों का ख्याल रखना बहुत जरूरी है. क्योंकि इस दौरान यदि पशु बीमार होते हैं तो उनका दूध कम हो जाता है। दूसरी ओर, पशुपालक को आर्थिक नुकसान के रूप में इसका परिणाम भुगतना पड़ता है।

Advertisement
Animal
Animal
Animal Care:  सर्दी के मौसम में पशुओं के लिए क्या करें

दिन और रात के मौसम का अपडेट करते रहें।

पशुओं को शीत लहर से बचाने के सभी उपाय करें।

विशेषकर रात के समय बाड़े को तिरपाल आदि से अच्छी तरह ढककर रखें।

Advertisement

पशुओं के नीचे फर्श पर पराली आदि बिछा दें।

READ MORE  Nilgai Se Bachne Ke Upay: नीलगाय और सूअर खेत के आसपास भी नहीं भटकेगें, इस दवा का करें इस्तेमाल

बाड़े में रोशनी रखें और जगह को गर्म रखें।

पशुओं को सूखी जगह पर रखें।

Advertisement

पशुओं को पेट के कीड़े की दवा खिलाएं तथा आवश्यक टीकाकरण करें।

मक्खियों से बचाव के लिए लेमनग्रास और डैफोडील्स को बाड़े में लटकाएँ।

नीम के तेल का उपयोग मक्खियों और मच्छरों से बचाव के लिए भी किया जा सकता है।

Advertisement

पशुओं को मोटे कपड़े व बोरे से ढकें।

पशुओं को गर्म रखने के लिए खली और गुड़ खिलाएं।

पशुओं को दिन में तीन से चार बार हल्का गर्म पानी पिलायें।

Advertisement
Animal Care: डॉक्टर की सलाह लेते रहे

जैसे ही आपको बीमारी का कोई लक्षण दिखाई दे तो पशु को डॉक्टर को दिखाएं।

बीमार, कमजोर तथा गर्भवती पशुओं का विशेष ध्यान रखें।

READ MORE  Animal Care: गर्मियों में पशुओं की ऐसे करें देखभाल, यहाँ जानें जरूरी टिप्स

मृत पशुओं के शवों को आबादी एवं तालाबों आदि से दूर निस्तारित करें।

Advertisement

आग के खतरों को जानवरों के बाड़ों से दूर रखें।

मौसम के अनुसार नए पशु बाड़ों का निर्माण करें।

Also Read: Sukanya Samriddhi Scheme: केंद्र सरकार बेटी को दे रही पुरे 22 लाख रूपए, जल्द करें आवेदन

Advertisement
Animal
Animal
Animal Care:  सर्दियों में जानवरों के साथ क्या न करें

सर्दी के मौसम में पशुओं को खुला न छोड़ें।

शीत ऋतु में पशु मेले नहीं लगने चाहिए।

पशुओं को ठंडा चारा व पानी नहीं देना चाहिए।

Advertisement

जानवर बीमार हो तो ही डॉक्टर को दिखाएं।

जानवरों को नमी और धुएँ वाले स्थानों पर नहीं रखना चाहिए, इससे निमोनिया का खतरा बढ़ जाता है।

Advertisement
Advertisement

Disclaimer : इस खबर में जो भी जानकारी दी गई है उसकी पुष्टि Aapniagri.com द्वारा नहीं की गई है। यह सारी जानकारी हमें सोशल और इंटरनेट मीडिया के जरिए मिली है। खबर पढ़कर कोई भी कदम उठाने से पहले अपनी तरफ से लाभ-हानि का अच्छी तरह से आंकलन कर लें और किसी भी तरह के कानून का उल्लंघन न करें। Aapniagri.com पोस्ट में दिखाए गए विज्ञापनों के बारे में कोई जिम्मेदारी नहीं लेता है।

Related posts

Agriculture News: दुधारू पशुओं को खिलाएं यह चीज, बढ़ जाएगी दूध की मात्रा

Rampal Manda

Agriculture News: पशुओं के लिए फूल पॉवर फूल है ईंट जैसा दिखने वाला यह चारा, बढ़ जाती है दूध की मात्रा

Rampal Manda

Cattle rearing: गाय-भैंस के लिए घर पर बनाएं दूध बढ़ाने की दवाई, 10 दिन में मिलेगा रिजल्ट

Rampal Manda

Leave a Comment