Aapni Agri
कृषि समाचार

Agricultural Advisory: रबी फसलों की अच्छी पैदावार के लिए कृषि वैज्ञानिकों ने जारी की एडवाइजरी, किसानों को होगा मुनाफा

Agricultural Advisory:
Advertisement

Agricultural Advisory:  देश के किसान अपनी फसलों से अच्छी पैदावार प्राप्त कर सकें। इसके लिए देश की सरकारों के साथ-साथ कृषि विशेषज्ञ भी लगातार प्रयास कर रहे हैं और समय-समय पर कृषि फसलों के लिए नई-नई खोज भी करते रहते हैं। किसानों को कार्यों की जानकारी दी। जिससे किसान अपनी फसल से अच्छा उत्पादन प्राप्त कर अच्छा मुनाफा कमा सकें। इसी सिलसिले में पूसा के कृषि वैज्ञानिकों ने मौसम की स्थिति को ध्यान में रखते हुए किसानों के लिए कृषि सलाह जारी की है.

Also Read: Pashupalan: ठंड में पशुओं का रखें विशेष ध्यान, ये बीमारी है बेहद खतरनाक

Agricultural Advisory:  वैज्ञानिकों की कृषि सलाह

कृषि वैज्ञानिकों की यह कृषि सलाह भारत में रबी फसलों के लिए जारी की गई है। किसानों को वैज्ञानिकों द्वारा दी गई सभी सलाह के अनुसार ही अपनी फसलों में कृषि कार्य करना चाहिए। इससे उन्हें अच्छा उत्पादन मिलने के साथ-साथ फसलों की लागत भी कम होगी। तो आइये जानते हैं रबी फसल के लिए कृषि वैज्ञानिकों ने किसानों को क्या सलाह दी है-

Advertisement
Agricultural Advisory:  गेहूं की फसल के लिए उचित कृषि कार्य

जिस भी किसान ने गेहूं की बुआई की है और 21 से 25 दिन (सीआरआई चरण) हो गई है तो उसे सिंचाई करनी चाहिए। नाइट्रोजन की दूसरी खुराक उसी सिंचाई के 3 से 4 दिन बाद फसल को देनी चाहिए।

READ MORE  Haryana Budget 2024-25: किसान आंदोलन के दौरान सीएम खट्टर ने किया कर्जमाफी व MSP का ऐलान

साथ ही जो किसान गेहूं की पछेती प्रजाति की बुआई करना चाहते हैं. उन्हें इसकी बुआई जल्दी करनी चाहिए. इसके लिए वह प्रति हेक्टेयर 125 किलोग्राम गेहूं के बीज बो सकते हैं.

Agricultural
Agricultural

किसान गेहूं की एचडी-3059, एचडी-3237, एचडी-3271, एचडी-3369, एचडी-3117 डब्ल्यूआर-544, पीबीडब्ल्यू .373 आदि किस्मों की भी बुआई कर सकते हैं।

Advertisement

किसानों को गेहूं बोने से पहले बीज को बाविस्टिन 1 ग्राम या थीरम 2.0 ग्राम प्रति किलोग्राम बीज की दर से उपचारित करना नहीं भूलना चाहिए.

Agricultural Advisory:  पूसा के कृषि वैज्ञानिकों की सलाह

इसके अलावा, पूसा के कृषि वैज्ञानिकों ने अपनी सलाह में कहा कि जिन खेतों में दीमक का संक्रमण एक बारहमासी समस्या है, वहां बुआई से पहले क्लोरपाइरीफोस (20EC) को 5 लीटर प्रति हेक्टेयर की दर से सिंचाई पूर्व पानी में मिलाकर छिड़काव करना चाहिए।

READ MORE  Haryana Budget 2024-25: किसान आंदोलन के दौरान सीएम खट्टर ने किया कर्जमाफी व MSP का ऐलान

किसानों को अपने खेतों में 80, 40 और 40 किलोग्राम नाइट्रोजन, फास्फोरस और पोटाश उर्वरक डालना चाहिए। प्रति हेक्टेयर रखा जाना चाहिए।

Advertisement
Agricultural Advisory:  किसानों को इस समय सरसों की खेती में ये करना चाहिए

कृषि वैज्ञानिकों ने सरसों की खेती के लिए फसल की निराई-गुड़ाई की सलाह दी है। यदि मौसम कम तापमान वाला है। यह दो सप्ताह तक रहता है। इससे फसल में सफेद झुलसा रोग लगने की संभावना बढ़ जाएगी। ऐसे मामलों में, किसानों को फसल के पौधों की पत्तियों पर सफेद रतुआ की उपस्थिति का निरीक्षण करने की सलाह दी जाती है।

Also Read: NH Toll Tax: बिना ट्रेवल किए 1.55 लाख यात्रियों के फास्टैग से कट गए टोल टैक्स, क्या आपके साथ भी हुआ है ऐसा

READ MORE  Haryana Budget 2024-25: किसान आंदोलन के दौरान सीएम खट्टर ने किया कर्जमाफी व MSP का ऐलान
Agricultural
Agricultural
Agricultural Advisory:  प्याज की खेती में रोपण सलाह

जो भी किसान प्याज उगाना चाहता है. किसान इसी सप्ताह इसकी रोपाई कर दें. इसके अलावा, किसानों को सलाह दी जाती है कि वे रोपण से पहले खेतों में पूरी तरह से विघटित FYM और पोटाश उर्वरकों का उपयोग करें।

Advertisement
Advertisement

Disclaimer : इस खबर में जो भी जानकारी दी गई है उसकी पुष्टि Aapniagri.com द्वारा नहीं की गई है। यह सारी जानकारी हमें सोशल और इंटरनेट मीडिया के जरिए मिली है। खबर पढ़कर कोई भी कदम उठाने से पहले अपनी तरफ से लाभ-हानि का अच्छी तरह से आंकलन कर लें और किसी भी तरह के कानून का उल्लंघन न करें। Aapniagri.com पोस्ट में दिखाए गए विज्ञापनों के बारे में कोई जिम्मेदारी नहीं लेता है।

Related posts

Symptoms Frost Disease: इन लक्षणों से पता लगता हैं की फसल पाले की चपेट में आई है, किसानों को जानना है अति जरूरी

Rampal Manda

weather information: अब किसानों को मिलेगी मौसम की सही जानकारी, मौसम विभाग ने जारी किया मेघदूत ऐप

Rampal Manda

Cultivation of maize: मक्के की खेती करने वाले किसानों के लिए बड़ी सौगात, खेत बनेंगे पेट्रोल के कुएँ

Rampal Manda

Leave a Comment